Ticker

6/recent/ticker-posts

सीएम व विधायकों के खिलाफ अपशब्द मामले की जांच करने आज आएंगी शहर प्रभारी

बिलासपुर। सीएम व विधायकों के खिलाफ अपशब्द मामले की जांच करने सोमवार को शहर प्रभारी मंजू सिंह बिलासपुर आएंगी। वे नेताओं से चर्चा कर गोपनीय रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी को देंगी। जिला प्रभारी मोतीलाल देवांगन बाहर हैं, इसलिए वे जांच करने बाद में आएंगे।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री गिरीश देवांगन ने बिलासपुर में मुख्यमंत्री व विधायकों के खिलाफ अपशब्द के साथ ही दशहरा और अटल यूनिवर्सिटी में मुख्य अतिथि विवाद के मामले की जांच कर एक सप्ताह में रिपोर्ट देने के निर्देश ग्रामीण व शहर प्रभारी को दिए थे। देवांगन ने बिलासपुर ग्रामीण प्रभारी मोतीलाल देवांगन व शहर प्रभारी मंजू सिंह को लिखे पत्र में कहा कि छठ कार्यक्रम में प्रदेश सचिव महेश दुबे द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री व क्षेत्रीय विधायकों के खिलाफ अपशब्द कहने व अटल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह व दशहरा कार्यक्रम में मुख्य आतिथ्य के विवाद को लेकर समाचार प्रकाशित होने से पार्टी संगठन की छवि धूमिल हो रही है। दोनों प्रभारी जिले का दौरा कर प्रकरण से संबंधित नेताओं व कार्यकर्ताओं से व्यक्तिगत चर्चा कर विस्तृत गोपनीय रिपोर्ट दें। पत्र मिलने के बाद शहर प्रभारी मंजू सिंह मोतीलाल देवांगन के साथ जांच करने आने वाली थीं लेकिन देवांगन बाहर हैं, इसलिए अकेली ही आ रही हैं। बता दें कि 31 अक्टूबर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बिलासपुर में छठ पूजा में महाआरती करने पहुंचे थे। हेलीकॉप्टर अंधेरे में नहीं उड़ पाता इसलिए वे जल्दी गए थे। वहां मौजूद प्रदेश सचिव महेश दुबे ने उनके लिए अपशब्द कहा था। प्रदेश प्रभारी पुनिया ने मामले को गंभीरता से लेकर जांच के निर्देश दिए। हालांकि प्रदेश सचिव दुबे ने अपशब्द से इनकार करते हुए विधायकों पर नाराजगी जताने की बात कही थी।