छत्तीसगढ़ में कोरोना ले रहा रौद्र रूप अकेले दुर्ग में 9 की मौत

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस ने एक बार फिर से रफ्तार पकड़ ली है। अब रोजाना हजार से अधिक मरीज सामने आ रहे हैं। इसके बावजूद लोग लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहे हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों में इजाफा होने से लोगों के बीच भय का माहौल है।

छत्तीसगढ़ में सोमवार को दुर्ग में सबसे अधिक 468 कोरोना मरीज मिले हैं। इसके बाद रायपुर में 349, राजनांदगांव में 115, बिलासपुर में 85, सरगुजा में 63, जशपुर-बेमेतरा में 53-53 और कोरिया में 51 कोरोना मरीज सामने आए हैं।

प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 1 हजार 525 नए कोरोना मरीज मिले हैं। कोरोना से 10 लोगों ने जान भी गंवाई है। राहत की बात यह है कि इस बीमारी से 527 मरीज़ स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं। दुर्ग जिले में अकेले आज 8 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। मौत का यह आकड़ा देख लोग डरने लगे हैं। इसके अलावा रायपुर और बस्तर में 1-1 मरीज की कोरोना से जान गई हैं। इस तरह राज्य में स्थिति धीरे-धीरे बेकाबू होती जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग के ताजा बुलेटिन के मुताबिक कोरोना से अब तक 3 लाख 12 हजार 511 लोग ठीक हो चुके हैं। अभी तक 3 हजार 962 लोगों की मौत हुई है। राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 9 हजार 205 है। प्रदेश में आज 35 हजार 933 लोगों का सैंपल लिया गया है।

रायपुर विकास प्राधिकरण (RDA) में पिछले 3 दिनों में 10 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जनवरी से निरंतर कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। इससे कर्मचारियों में भय का माहौल है। ज्यादातर कर्मचारी 50 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले हैं। कई लोग मधुमेह व उच्च रक्तचाप से पीड़ित है। कार्यालय में जमीन दलालों का कब्जा है। बड़ी संख्या में ये लोग प्रतिदिन कार्यालय में बेरोकटोक आतें हैं। कर्मचारियों का कहना है कि ऐसे लोगों के कार्यालय प्रवेश पर पाबंदी लगनी चाहिए।

Previous Post Next Post
Wee News