Ticker

6/recent/ticker-posts

व्यापार विहार के तीन दुकानों में हो गई चोरी, घटना के वक्त सभी दुकानों में थे सीसीटीवी कैमरे बंद, पुलिस गश्त और चौकीदार पर भी उठ रहे सवाल

बिलासपुर। होली के मद्देनजर पुलिस व्यवस्था दुरुस्त करने के दावे किए जा रहे हैं। साथ ही बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखकर धारा 144 लागू है। बावजूद इसके बिलासपुर के सबसे बड़े थोक मंडी व्यापार विहार में चोर बड़े आराम से आते हैं और तीन दुकानों से चोरी को अंजाम देकर उसी खामोशी से गुजर जाते हैं, मगर किसी को कुछ भी पता नहीं चलता। शनिवार तड़के करीब 3:30 बजे बिलासपुर व्यापार विहार के 3 दुकानो में चोरी की वारदात हो गई ।संचालक विकास सतपाल के लव ट्रेडर्स से चोरों ने ₹20,000 कीमती चॉकलेट और करीब ₹80,000 मूल्य के सिक्के चोरी किए हैं। यह सिक्के बोरी और डिब्बों में बंद थे। इसी क्रम में मौजूद हरीश पमनानी के नेशनल सेल्स में भी चोरों ने धमक दी और 15 से ₹20,000 नगद गल्ले से उठाकर ले गए। साथ ही मौजूद सुनील स्टोर में भी चोर शटर अटास कर घुसे लेकिन वे गोदाम में पहुंच गए लिहाजा उन्हें कुछ हासिल नहीं हुआ।

इसके बाद जिस खामोशी से चोर यहां पहुंचे थे चोरी को अंजाम देकर वे उसी तरह चुपके से निकल गए ।सुबह करीब सुबह 5:30 बजे दुकान संचालकों को चोरी की घटना की जानकारी हुई। इसके बाद वे भागे भागे पहुंचे और चोरी में क्या कुछ खोया इसका आंकलन करने लगे। वैसे तो अधिकांश दुकानों में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं लेकिन कैमरे सिर्फ अपने ही कर्मचारियों की निगरानी करते हैं। दुकानों में बार-बार आग लग जाने और चूहों के डर से अधिकांश व्यापारी शाम को दुकान बंद करते समय सीसीटीवी कैमरे को ऑफ कर देते हैं, इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा क्योंकि सीसीटीवी कैमरे लगे होने के बावजूद चोर उनके यहां पहुंचे और बिना कैमरे में कैद हुए चुपचाप चले भी गए। हालांकि व्यापार विहार में लगे कुछ कैमरे में चोरों की तस्वीरें कैद हुई है जिससे पता चला कि रात करीब 1:30 और 2:30 बजे यहां पुलिस ने गश्त की थी। वही परिसर में चौकीदार भी है। इस सब के बावजूद 3 चोर 3:30 बजे पहुंचे और अपने मकसद को अंजाम दिया । सीसीटीवी कैमरे में तीन लोग चोरी करने आते नजर आ रहे हैं। पिछले दिनों व्यापारी संगठनों द्वारा भी यहां सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। विधायक ने भी इस पहल की जमकर तारीफ की थी लेकिन इस घटना के वक्त वो कैमरे उपयोगी साबित न हो पाए, लिहाजा इस मामले को कुछ व्यापारी संदेहास्पद भी बता रहे हैं। कुल मिलाकर इस चोरी की वारदात के बाद तारबाहर पुलिस मामला दर्ज कर चोरों की तलाश कर रही है।