Ticker

6/recent/ticker-posts

मस्तूरी जनपद में 7 लाख का गड़बड़झाला करने वाले तत्कालीन सीईओ मिस्टर जोगी गिरफ्तार ,लंबे समय से चल रहे थे फरार

बिलासपुर। जनपद पंचायत मस्तूरी में 14वें वित्त आयोग मद से सात लाख रुपये के गबन का मामले में पचपेड़ी  पुलिस ने मस्तूरी जनपद के तत्कालीन सीईओ को गिरफ्तार कर लिया है बता दें कि उक्त मामले की शिकायत मस्तूरी जनपद कार्यालय में पदस्थ लेखा अधिकारी ने पुलिस से की थी । इस पर पचपेड़ी पुलिस ने तत्कालीन सीईओ डीआर जोगी समेत 6 लोगों के खिलाफ जुर्म दर्ज किया था ।
जनपद पंचायत मस्तूरी की सहायक लेखाधिकारी गायत्री गुप्ता ने पुलिस से की शिकायत में कहा था  कि ग्राम पंचायत कोकड़ी के सचिव इतवारी राम खूंटे ने 14वें वित्त आयोग के खाते से सात लाख 29 हजार रुपये गलत तरीके से आहरण किये है  साथ ही बताया था कि राशि के आहरण के लिए लगाए गए चेक में उनका हस्ताक्षर नहीं था। शिकायत पर पंचायत विभाग के उपसंचालक ने जांच की थी  इस दौरान गांव के पूर्व सचिव रामनारायण और जनपद पंचायत के लिपिक  का बयान भी दर्ज किया गया था । जिसमे उन्होंने ग्राम पंचायत के खाते से गायत्री ट्रेडर्स चांपा के खाते में आनलाइन ट्रांजेक्शन करने की बात कही थी । इसमें जिला पंचायत में पदस्थ सहायक प्रबंधक विजय जायसवाल, तत्कालीन सीईओ डीआर जोगी, पूर्व सरपंच डिलेश कुमार पटेल की मिलीभगत है। 

कंप्यूटर से ट्रांजेक्शन किया था डिलीट

मामले की जांच शुरू होते की जनपद पंचायत में हड़कंप मच गया था । इसके बाद जांच को प्रभावित करने के लिए कंप्यूटर से ट्रांजेक्शन के विवरण भी डिलीट कर दिए गए थे । साथ ही अन्य दस्तावेज नाटकीय तरीके से गायब हो गए थे। जांच में इसकी जानकारी होने पर षड्यंत्र की धारा भी जोड़ी गई थी । 

शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक दीपक झा ,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण रोहित झा, नगर पुलिस अधीक्षक चकरभाठा ललिता मेहर के मार्गदर्शन प्राप्त कर थाना प्रभारी प्रवीण राजपूत के द्वारा टीम गठित कर दबिश देकर आरोपी डी आर जोगी पिता कलीराम जोगी उम्र 64 वर्ष साकीन महावीर नगर आवासी कॉलोनी मंगला चौक थाना सिविल लाइन जिला बिलासपुर को दिनांक 17/ 7 /2021 को 17:45 बजे विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय पेश कर दिया गया