Ticker

6/recent/ticker-posts

स्वर्ण आभूषण को गिरवी रखकर रकम दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला थाना टिकरापारा निवासी हिस्ट्रीशिटर सुमन साहू गिरफ्तार



आरोपी के द्वारा मदद करने के नाम पर विश्वास में लिया था प्रार्थिया को। 
प्रार्थी से सोने के आभूषण को लेकर हो गया था फरार।
आरोपी थाना टिकरापारा का है निगरानी बदमाश । 
आरोपी सुमन साहू चोरी के कई प्रकरणों में रह चुका है जेल में निरूद्ध। 
विश्वास में लेकर प्रार्थिया को बनाया अपना शिकारं 
आरोपियांे के मोबाईल नंबर, बैंक खाता तथा पता पूर्ण रूप से रहते है फर्जी।
आरोपी ठगी करने के लिये लिया था नया मोबाईल नंबर, घटना के पश्चात कर दिया था बंद। 
आरोपियों के विरूद्ध थाना सिविल लाईन में अपराध क्रमांक 377/21 धारा 420, 406 भादवि. के तहत् किया गया है अपराध पंजीबद्ध।
WEE NEWS रायपुर। प्रार्थिया राजश्री टंडन ने थाना सिविल लाईन में रिपोर्ट दर्ज कराया कि प्रार्थिया  कलेक्टर कार्यालय से अकेली पैदल श्याम प्लाजा तरफ जा रही थी तो रास्तें में करीब दोपहर 02ण्00 बजे आक्सीजोन गार्डन के पास एक अज्ञात व्यक्ति सामने तरफ से अकेला पैदल आते मिला। प्रार्थिया को अकेला देखकर पास आया और उसका नाम पता पूछा तो उसने उसे अपना नाम पता बता दिया अज्ञात व्यक्ति ने कहा कि  वह सुमन साहू है तथा ड्राईवरी करता है और मेरी बड़े बड़े लोगो से जान पहचान हैए अगर किसी को काम और पैसो की जरूरत है तो मै उसे काम और पैसा दिला सकता हूं फिर उसने अपना मोबाईल नंबर ;9685603120 मुझे दिया तथा प्रार्थिया का नंबर भी ले लिया। प्रार्थिया के  पास सोने का मंगलसुत्र और झुमका था जिसेे गिरवी रखकर कहीं से पैसे लेकर लोन चुकाने का सोची। आस पास मेरा कोई परिचित नहीं था फिर मुझे सुमन साहू का याद आया जो मुझसे 02.03 महिना पहले मिला था तथा काम और पैसे दिलाने को बोला था तब वह दिनांक 21ण्08ण्2021 को सुमन साहू से फोन से बात की तो वह  जेवर को गिरवी रखवाकर 50,000 रूपये दिलवाने का आश्वासन दिया और जेवर के साथ नेताजी चौक कटोरा तालाब बुलवाया। वह कटोरा तालाब अकेली आयी और साथ में पुराना इस्तेमाली सोने का जेवर काला मोती में रूपये को रखी थी कि दोपहर करीबन 1ण्30 बजे नेताजी चौक कटोरा तालाब रायपुर पहुंचकर उक्त दोनो सामान को सुमन साहू ले लिया और बोला कि वह सामान को एक लाख रूपये में गिरवी रखवाकर आधा घंटा में आ रहा है ऐसा कहकर वहां से चला गया तब प्रार्थिया उसी स्थान पर करीब 02 घंटा तक इंतजार करते रही और सुमन साहू को लगातार फोन करते रही लेकिन वह नहीं आया न ही फोन उठाया तब एहसास हुआ कि उसके साथ विश्वासघात करते हुये छल एवं ठगी कर दिया है जिस पर प्रार्थिया थाना सिविल लाईन में अपराध पंजिबद्ध कराई। 
 प्रकरण को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर  तारकेश्वर पटेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध  अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन नसर सिद्धिकी,एवं थाना प्रभारी सिविल लाईन को अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक निर्देश दिये गये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में थाना सिविल लाईन की टीम द्वारा अज्ञात आरेापी की पतासाजी प्रारंभ किया गया। टीम द्वारा प्रार्थी से घटना के संबंध में विस्तृत पूछताछ किया गया। अज्ञात आरोपी द्वारा जिस मोबाईल नंबर द्वारा प्रार्थिया से बातचीत की गई थी, उक्त मोबाईल नंबरों का तकनीकी विश्लेषण करने के साथ -साथ प्रार्थी द्वारा बताये गये स्थानों का सी.सी.टीव्ही. फूटेज निकालकर अध्ययन किया गया जिसके पश्चात आरोपी के निवास स्थान को चिन्हांकित करने में सफलता प्राप्त करते हुये आरोपी के निवास स्थान में रेड कार्यवाही करते हुये प्रकरण में आरोपी सुमन साहू को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की।  आरोपी के द्वारा प्रार्थिया से बात कर भरोसा प्राप्त कर लिया था जिससे पीड़ित इनके झांसे में आ गयी थी। आरोपी सुमन साहू को गिरफ्तार कर उसके विरूद्ध थाना सिविल लाईन में अग्रिम कार्यवाही किया गया।  

गिरफ्तार आरोपी
01. सुमन साहू उर्फ सुदन पिता दयाराम साहू  उम्र 30 साल निवासी वर्मा फर्नीचर के पास छत्तीसगढ नगर थाना टिकरापारा जिला रायपुर 

आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना सिविल लाईन से प्रधान आरक्षक प्रमोद पाण्डेय एवं मेला राम प्रधान, आर. विक्रम सिंह का विशेष योगदान रहा।