Weenews - भूमाफिया द्वारा ग्रामीणों की जमीन पर अवैध कब्जे का प्रयास, शिकायत पर पहुँचे मस्तूरी विधायक ने तहसीलदार को दिए जल्द निराकरण के निर्देश

कहा कराएंगेे उच्चस्तरीय जांच

बिलासपुर- मस्तूरी तहसील के जयरामनगर के समीपस्थ  ग्राम पंचायत भनेशर के ग्रामीणों की निजी और  शासकीय भूमि पर जमीन कारोबारी पिंटू शर्मा द्वारा अवैध कब्जे करने की शिकायत के बाद बुधवार मस्तुरी विधायक डॉक्टर कृष्णमूर्ति बांधी ने गांव में चौपाल लगा कर ग्रामीणों की समस्याये सुनी   इस दौरान विधायक के साथ मस्तूरी तहसीलदार मनोज खांडेकर व पटवारी भी मौजूद रहे इस दौरान ग्रामीणों ने मस्तूरी विधायक के सामने अपनी समस्या रखी जिसके बाद मस्तूरी विधायक ने पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने की बात कही साथ ही मजदूरी तहसीलदार को इस मामले पर जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए भूमाफिया पिंटू शर्मा व नरेंद्र चौहान उर्फ़ नंदू द्वारा निजी जमीन के खसरा पर शासकीय जमीन को बिक्री किये जाने का खुलासा ग्रामीणों ने अपनी शिकायत में किया है
 ग्रामीणों के अनुसार
जयरामनगर से लगे ग्राम भनेशर स्थित जमीन जिसका खसरा नंबर 9/1 नरेन्द्र चौहान के नाम पर दर्ज है और खसरा नंबर 11/1  शासकीय गौचर भूमि है जिसे बिलासपुर निवासी भूमाफिया पिंटू शर्मा द्वारा जयरामनगर निवासी जयराम वालजी के वंशजो द्वारा उत्तराधिकारी बनाए जाने का दावा करते हुए  कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है जिसमें राजस्व अधिकारियों के मिले होने का भी संदेह है | ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत भनेशर स्थित नरेंद्र चौहान का निजी भूमि जिसका खसरा नंबर 9/1 है व खसरा नंबर 11/1 और 5/1 जो कि शासकीय भूमि है जिसमे खसरा नंबर 5/1 लोच्ही सरदार का आरामिल से आरम्भ होता है 5/1 में पुराना कबिस्तान से मुख्य मार्ग बायपास पुराना क्रशर प्लांट 5/1 व 5/2 शासकीय भूमि है 5/3 शासकीय भूमि है जिसे कुम्हार जाति के लोगो को शासन की तरफ से 9 डिसमिल का पट्टा आबंटित किया गयाहै| किसान राइस मिल का भूभाग 5/2 है इसके आलावा 5/3 और 5/4 शासकीय भूमि व मंडी की जमीन है| ग्रामीण के अनुसार 11/1 जो की शासकीय भूमि है उसे खसरा नंबर 9/1 बताकर भूमि की बिक्री की जा रही है, भनेशर पंचायत की नरवापारा की जमीन एवं वेअर हाउस के आसपास की जमीन जिसमे लगभग सौ वर्षो से भी अधिक समय से सैकड़ो ग्रामीण काबिज है जिसे पिंटू शर्मा द्वारा अपना होने का दावा करते हुए कब्ज़ा करने गुंडागर्दी कर रहा है| ग्राम भनेशर से लगे मंगलचंद नामक  तालाब को पूरी तरह से पाटकर समतल कर दिया गया है जहा पूर्व में मनरेगा के तहत तालाब गहरीकरण का कार्य कराया गया था जिसे भी भूमाफिया पिंटू शर्मा द्वारा अपनी जमीन होने का दावा करते हुए कब्ज़ा किया जा रहा है| 
इसी से लगा हुआ स्टाप डेम है जिसकी भी स्थिति भी बद से बदत्तर हो गयी है वही इस जमीन पर गिट्टी खदान भी लगा हुआ है जिसका रकबा लगभग 40 एकड़ के आसपास है जिसे भी पिंटू शर्मा द्वारा जयरामजी वाल के नाम पर होने का दावा करते हुए कब्ज़ा करने का प्रयास किया जा रहा है| ग्राम पंचायत भनेशर निवासी छोटेलाल  ने बताया कि ग्राम पंचायत भनेशर की शासकीय जमीन पर लगभग सौ वर्षो से काबिज है तथा यहाँ सैकड़ो परिवार अपना मकान बनाकर गुजर-बसर कर रहे है बीते दिनों बिलासपुर निवासी पिंटू शर्मा अपने साथ कई गुंडातत्वों को लेकर आया तथा ग्रामीणों की बस्ती की जमीन को जयरामवाल का का होने का दावा करते हुए कहा कि मुझे जमीन के सम्बन्ध में अधिकार दिया गया है । ऐसा कहकर ग्रामीणों को धमकी देते हुए जमीन खाली करने कहा गया है जिसकी शिकायत सरपंच एवं ग्रामीणों ने एसडीएम मस्तुरी से की है।
बता दें कि उक्त मामले में आरोपित भूमाफिया पिंटू शर्मा की पृष्ठभूमि जमीन की अफरातफरी के कई मामलों को लेकर हमेशा से विवादों में रही है ।
बताया जाता है कि पिंटू शर्मा  विवादित जमीनों पर अवैध कब्ज़ा कर बेचने में भी माहिर है । पिंटू शर्मा बैंक कर्मी को जमीन मामले में प्रताड़ित कर आत्महत्या करने पर विवश करने के मामले में जेल जा चुका है । इधर जेल से रिहा होने के बाद पिंटू शर्मा एक बार फिर जमीन के अवैध कारोबार में शामिल हो गया है

जल्द करें निराकरण

उक्त मामले को लेकर मसूरी विधायक ने मस्तूरी तहसीलदार मनोज खांडेकर को मामले का जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए साथ ही मामले की उच्च अधिकारी  जांच कराने की बात कही

Previous Post Next Post