रेलवे गार्डो की मात्रिक संस्था - ऑल इंडिया गार्ड्स कॉउंसिल के नेतृत्व में बिलासपुर मंडल के सभी गार्ड अपने परिवार सहित दिया धरना

WEE NEWS बिलासपुर। रेलवे गार्डो की मात्रिक संस्था - ऑल इंडिया गार्ड्स कॉउंसिल के नेतृत्व में बिलासपुर मंडल के सभी गार्ड अपने परिवार सहित मंडल रेल प्रबंधक, बिलासपुर के ऑफिस के सामने सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक रेलवे प्रशासन के तानाशाही रवैये के खिलाफ धरना दे रहे हैं। इस कार्यक्रम में गार्ड के साथ-साथ उनके परिवार की महिलाएं एवं बच्चे भी शामिल हुए। शुक्रवार को धरना कांउसिल के केन्द्रीय कोषाध्यक्ष श्री डी. विस्वास की अध्यक्षता में किया गया जिसमें काउंसिल के सभी सक्रीय गार्ड ए.पी. अशोक, ए.के. दीक्षित, रजनी पटेल, डी.एन. रवि, मृत्युंजय कुमार
आदि शामिल हुए। इसके आलावा धरने में द.पू.म.रे मजदूर काँग्रेस, द.पू.म.रे. श्रमिक युनियन, द.पू.म.रे. मजदूर संघ, ए.आई.एल.आर.एस.ए., एस.सी. / एस.टी. यूनियन एवं ओ.बी.सी. यूनियन के पदाधिकारी भी सम्मिलित हुए।
इस कार्यक्रम विशेष रूप से रेलवे प्रशासन के अनुचित आदेशों और दबाव डाल कर नियम विरूद्ध काम कराने के विरोध में हुआ। पिछले कुछ समय से करोना काल में करोना की आड़ में सभी रनिंग स्टाफ को मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। जबकि पूरे भारत में रेलवे गार्डो ने करोना वरियर्स बनकर देश की सेवा की। कार्यक्रम की प्रमुख मांगें

1.सुविधा विहीन स्थानों पर अनुचित ढंग से स्थानांतरण के विरूध 
2.लाइन बाक्स को तुरंत लोडिंग करवाना प्रत्येक डिपो में। 3.रेलवे बोर्ड के दिशा निर्देशों अनुसार लॉग आवर्स ड्यूटी बंद करो। 
4.पूर्व में खरसिया और ब्रजराजनगर को अव्यवहारिक तरीके से स्थानांतरण किये गये गार्डो को वादा अनुसार तुरंत वापिस बुलायें ।
5. ब्रेक वेन की कंडीशन में उचित सुधार किया जाये। BVCM ब्रेकवान को ट्रेन में ना लगाया जाये। 

6. रेलवे अधिकारियों द्वारा अव्यवहारिक कार्य प्रणाली अपना कर सुरक्षा और संरक्षा नियमों को ताक पर रखकर काम कराना।

7. गार्ड केडर की खाली पोस्ट को तुरंत भरा जाये क्योंकि गार्ड कटेगरी सेफ्टी केटेगरी में है।
8. गार्ड केडर के Express पैसेंजर, वरिष्ठ माल परिचालक के पदों पर पदोन्नति तुरंत किया जाये।
9. रनिंग रूम की सुविधाओं का विस्तार किया जाये । 

10.रनिंग रूम में खाने की स्थिति में अमूल चूल परिवर्तन किया जाये।
11. कोरोना पडेमिक की आड़ में उल्टी सीधी वर्किंग को तुरंत बंद करना। 
12. कोचिंग लिंक शीघ्र लागू किया जाये, क्योंकि 99% गाड़ियाँ चालू हो गई हैं।
Previous Post Next Post