Weenews - वर्ग विशेष पर टिप्पणी ,मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता पर दर्ज एफआईआर

रायपुर/मुख्यमंत्री शभूपेश बघेल ने कहा है कि विगत दिनों उनके पिता नंदकुमार बघेल द्वारा एक वर्ग विशेष के विरूद्ध की गई टिप्पणी उनके संज्ञान में आयी है। उनकी इस टिप्पणी से समाज के एक वर्ग की भावनाओं और सामाजिक सद्भाव
को ठेस लगी है उनके इस बयान से उन्हें भी दुःख हुआ है।

वही मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि मुझे सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से यह ज्ञात हुआ है कि ये बात कही जा रही है कि श्री नंदकुमार बघेल पर इसलिये कार्यवाही नहीं होगी क्योंकि वे मुख्यमंत्री के पिता हैं। श्री भूपेश बघेल ने यह स्पष्ट कहा है कि उनकी सरकार सभी को एक ही दृष्टि से देखती है। उनके पिता श्री
नंदकुमार बघेल से उनके वैचारिक मतभेद शुरू से हैं ये बात सभी को पता है।

साथ ही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्पष्ट कर दिया है कि संविधान और कानून सर्वोपरि हैं। इसके खिलाफ जाने वाले के खिलाफ उचित कार्रवाई का प्रावधान है, जिसे खारिज इसलिए नहीं किया जा सकता कि कोई उनका संबंधी है।

यह बात उन्होंने सार्वजनिक कर दी है और अपने पिता के ब्राह्मण विरोधी बयान से काफी ज्यादा व्यथित हैं। उन्होंने स्पष्ट कहा है कि वे सरकार में हैं, इसलिए पहले कानून उनके लिए मायने रखता है। फिर चाहे पिता ही क्यों ना हो, उन्हें भी कानूनी प्रक्रिया से गुजरना होगा।

मुख्यमंत्री के इस बयान के बाद आज छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी थाना में ब्राह्मणों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार के ब्राह्मण विरोधी बयान को लेकर शिकायत दर्ज कराई है और आपत्ति व्यक्त की है।

दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल उत्तरप्रदेश गए हुए थे, वहां पर उन्होंने ब्राह्मणों के विरोध में टिप्पणी करते हुए कहा कि ब्राह्मण विदेशी हैं, परदेशी हैं। इस देश को ब्राह्मणों से मुक्त करने आंदोलन किया जाएगा।

भारत में ब्राह्मणों के अस्तित्व को लेकर जिस तरह का सवाल खड़ा किया गया, उस बात को लेकर छत्तीसगढ़ मे ब्राह्मणों ने एकजुटता का परिचय देते हुए शिकायत दर्ज कराई है। बता दें कि इस मामले में सिविल लाइन थाना में भी शिकातय दर्ज कराई गई है।
Previous Post Next Post