Ticker

6/recent/ticker-posts

WEENEWS- छत्तीसगढ़ में बंद होंगे हुक्का बार, मुख्यमंत्री बघेल ने कहा- नशे के कारोबार को पनपने न दें, अधीक्षक करें कार्रवाई

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को प्रदेश के सभी जिलों के SP और IG की बैठक ली। बैठक में उन्होंने प्रदेश में हुक्का बार पूरी तरह से प्रतिबंधित करने की बात की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नशे के कारोबार को बिल्कुल भी पनपने न दिया जाए। इस मामले में पुलिस अधीक्षक कड़ी कार्रवाई करें। दूसरे राज्यों से आ रहे नशीले पदार्थों को छत्तीसगढ़ में बिल्कुल भी घुसने न दें, छत्तीसगढ़ में गांजा की एक पत्ती भी दूसरे राज्य से नहीं घुसने देना चाहिए।

 मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि साम्प्रदायिक और अराजक तत्व छोटी छोटी घटनाओं को बड़ा रूप देने की चेष्टा कर रहे हैं। पुलिस अधीक्षक उन सभी को पहचानें, अपना खुफिया सूचना तंत्र विकसित करें ताकि ऐसी घटनाओं का सीधा असर प्रदेश की शांति व्यवस्था और सरकार की छवि पर न हो पाए। मुख्यमंत्री ने इसके लिए सभी SP से कहा है कि हर जिले में सोशल मीडिया मॉनिटरिंग की स्पेशल टीम बनाई जाए जो सोशल मीडिया में अफ़वाह फैलाने वालों का चिह्नांकन कर कार्यवाही करे।

राजनीतिक लाभ लेने वालों को रोकेगी पुलिस
सीएम भूपेश बघेल ने सभी जिलों के पुलिस अफसरों से कहा, कुछ अवसरवादी लोग राजनीति लाभ लेने के चक्कर में भ्रामक खबरें फैलाते हैं। उनकी पहचान कर कार्रवाई करना बेहद जरूरी है। उन्होंने सभी अफसरों से ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने पर जोर दिया।
SP करें कलेक्टर के साथ 4-5 दौरे
इस बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि हमारी सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य किया है। विकास के लिए शांति आवश्यक है। कलेक्टर और SP के बीच सही कोऑर्डिनेशन होना जरूरी है । इसलिए कलेक्टर-एसपी महीने में कम से कम 4-5 बार साथ में दौरा करें।
सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि कानून-व्यवस्था बनाए रखना आपकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। हर स्तर पर जिला प्रशासन की उपस्थिति दिखनी चाहिए। अफसरों ने बताया कि हत्या के प्रकरणों में 2011 की तुलना में आज की स्थिति में 32% कमी आई है। हत्या के प्रयास में 2011 की तुलना में आज की स्थिति में 37% कमी आई है।