विदाई में होता सुख-दुख का एहसास

विदाई में होता सुख-दुख का एहसास
बीईओ कार्यालय में पदस्थ मुख्य लिपिक की भावपूर्ण विदाई

सिहोरा

सिहोरा किसी कार्यालय में पदस्थ की सेवानिवृत्ति पर विदाई एक ऐसा भावुक पल होता है जिसमें सेवानिवृत्त क सुख दुख दोनों का एहसास होता है सेवानिवृत्त को अपनी सेवानिवृत्ति के बाद परिवार के साथ समय बिताने की खुशी होती है वही कार्यालय में वर्षों से साथी रहे अपनों से बिछड़ने का दुख रहता है यह बात विकास खंड शिक्षा अधिकारी एवं प्राचार्य पंडित विष्णु दत्त शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मुख्य अतिथि अशोक उपाध्याय ने बीईओ कार्यालय में पदस्थ मुख्य लिपिक श्याम लाल पटेल की सेवानिवृत्ति पर हुई विदाई कार्यक्रम में कहीं। विकासखंड स्रोत समन्वयक पी एल रैदास प्रभारी प्राचार्य शासकीय लालचंद स्कूल राजेश पटेल प्राचार्य शासकीय हाई स्कूल गुनहरु मोहसाम एमडी पटेल सेवानिवृत्त प्राचार्य गोविंद दास सुहाने के विशिष्ट आतिथ्य में कार्यक्रम हुआ बीईओ कार्यालय के एल पी पटेल जमुना प्रसाद त्रिपाठी अनिल चौबे जेपी ब्योहर राजेश मिश्रा धर्मेंद्र मेहरा रवि कोरी आलिंद अग्रवाल नितिन खंपरिया विकासखंड स्त्रोत समन्वयक कार्यालय अश्वनी उपाध्याय बृजेश श्रीवास्तव राकेश श्रीवास्तव आशा आरसे अजय ठाकुर विजय मेहरा पंडित विष्णु दत्त उच्चतर माध्यमिक के रवि मिश्रा एंड के दोहे संजीव गुप्ता आशीष तिवारी संदीप सोनी ने सेवानिवृत्त मुख्य लिपिक का स्वागत कर उनके सुखद दीर्घायु जीवन की कामना की।
Previous Post Next Post