कोहरे व ओस के कारण नही दिखता पुलबंजारी माता पुल

कोहरे व ओस के कारण नही दिखता पुल
बंजारी माता पुल 
 टूटी रैलिंग, सुरक्षा की दीवार नहीं, दुर्घटना का बना रहता है खतरा

सिहोरा
रात और सुबह के समय कोहरे की वजह से एनएच 30 पहुंच मार्ग के पुल पर खतरा बढ़ जाता है। वाहन चालकों को इस मौसम में यह पुल दिखता नहीं है। बंजारी माता मंदिर गांधीग्राम के किनारे स्थित करदही नदी पुल जो राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 को जोड़ने वाली मुख्य सड़क है। वर्षों से पुल की रेलिंग व सुरक्षा की दीवार गायब है जिससे वाहनों, राहगीरों,भक्तों को पुल से गिरने का खतरा बना रहता है। रेलिंग न होने की वजह से अंधेरे में व सुबह के वक्त कोहरा छाने से अनेकों बार भार वाहक व यात्री वाहन इस पुल के नीचे गिर चुके हैं व दुर्घटनाग्रस्त हो चुके हैं। बावजूद इसके शासन-प्रशासन ने रेलिंग लगाने की जहमत नहीं उठाई।
  गांधीग्राम का बंजारी माता पुल वर्षों पुराना है जिसमें पुल की दोनों प्रवेश मार्गों की रेलिंग सालों से टूटी हुई है। रेलिंग टूटने से पुल की बाउंड्री वा सड़क मार्ग का कुछ हिस्सा अनेकों बार वाहन गिरने से टूट चुका है, जिसके कारण पुल के दोनों ओर प्रवेश मार्ग पर खतरे के गड्ढे बन चुके हैं। सड़क मार्ग का बहुत सा हिस्सा दोनों और टूट जाने की वजह से धराशाई हो कर पुल के नीचे गिर चुका है।

कोहरे से नही दिखता पुल ऊपर से नीचे गिर जाते हैं वाहन

रात्रि के समय व ठंड में सुबह के वक्त कोहरे होने पर व लाईट आदि का पुल पर प्रबंध न होने से वाहन चालकों को उक्त स्थान नहीं दिखता। जिससे इस मार्ग से गुजरते ही वाहन सीधे नदी में जाकर समा जाते हैं और दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं। रेलिंग ना होने की वजह से अनेकों बार पशु व दुपहिया वाहन चालक भी नदी में गिर चुके हैं व काल कवलित हो चुके हैं।
 लम्बा समय हो गए नहीं बनी पुल की सुरक्षा दीवार व नही लगी रेलिंग
 बंजारी माता नदी पर स्थित पुल की दीवार व रेलिंग ट्रक व भारी ट्राला पलट जाने की वजह से टूट गई थी, जब से लेकर अब तक रेलिंग लगाने की विभाग को फुर्सत नहीं मिली। रेलिंग टूटने व  पुल के दोनों ओर पुल की सड़क स्थानों पर सुरक्षा दीवार न होने से दुर्घटनाओं व खतरों में क्रमशः इजाफा हो रहा है, किंतु विभाग को इतनी फुर्सत नहीं है की यातायात सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए बंजारी माता के पुल पर दोनों ओर गिर चुकी सुरक्षा दीवार रेलिंग लगा सके ।ग्राम के प्रबुद्ध जनों की मांग है कि गाँधीग्राम बंजारी माता के इस पुल पर ठंड के समय कोहरा होने पर वह रात्रि के समय अंधेरे में खतरा और बढ़ गया है। इसलिए पुल पर सुरक्षा दीवार और रेलिंग तुरंत लगाई जावे।
Previous Post Next Post