दूसरे राज्यों से वाहनों में लोड धान सिहोरा और मझौली क्षेत्र में मिली तो उड़न दस्ते की खैर नहीं

दूसरे राज्यों से वाहनों में लोड धान सिहोरा और मझौली क्षेत्र में मिली तो उड़न दस्ते की खैर नहीं

सिहोरा कृषि उपज मंडी का औचक निरीक्षण करने पहुंचे एसडीएम भार साधक अधिकारी ने दिए सख्त निर्देश

मंडी में व्यापारियों द्वारा खरीदी जा रही किसानों की धान और कृषि उपज मंडी का किया निरीक्षण

सिहोरा

उत्तर प्रदेश और पंजाब से वाहनों में लोड धान किसी भी हालत में सिहोरा और मझौली क्षेत्र में प्रवेश न करने पाए। अगर एक भी वाहन संबंधित क्षेत्र में मिला तो उड़न दस्ते की खैर नहीं। तत्काल संबंधित उड़न दस्ते को सस्पेंड कर दिया जाएगा। यह सख्त निर्देश सिहोरा एसडीएम और कृषि उपज मंडी के बाहर साधक अधिकारी आशीष पांडे ने बुधवार को कृषि उपज मंडी का औचक निरीक्षण करने के दौरान कृषि उपज मंडी कार्यालय में उड़न दस्ते अमले को दिए। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि किसी भी स्थिति में धान खरीदी के दौरान दूसरे राज्यों से आने वाली धान का उपयोग व्यापारी न करने पाए।

एसडीएम आशीष पांडे दोपहर करीब 1:30 बजे के लगभग कृषि उपज मंडी पहुंचे। उन्होंने सहायक मंडी निरीक्षक खेम कुमार पनिका से मंडी प्रांगण में व्यापारियों द्वारा खरीदी गई धान की जानकारी ली। कृषक नंद कुमार पटेल ने बताया कि उसने नीरज ट्रेडर्स को अपनी धान बेची है। उनके द्वारा तुलाई की जा रही है।

धान की एकत्रित कट्टी की ली जानकारी, मंडी कार्यालय का किया निरीक्षण

निरीक्षण के दौरान मंडी परिसर में धान की कट्टी रखी हुई थी जानकारी लेने पर बताया गया कि मूरत ध्वज श्रवण कुमार सिहोरा ने 450 कट्टी (180 क्विंटल) धान खरीद कर नांदेड़ भेजने के लिए रखी थी। इसके बाद एसडीएम ने कृषि उपज मंडी कार्यालय का निरीक्षण किया निरीक्षण में उपस्थिति पंजी का अवलोकन किया। निरीक्षण के दौरान सभी कर्मचारी उपस्थित पाए गए। उड़नदस्ता दल से चर्चा की गई उड़नदस्ता दल को सख्त निर्देश दिए गए कि सिहोरा और मझौली नाका पर निरीक्षकों की ड्यूटी लगाई जाए। उड़नदस्ता दल 24 घंटे निगरानी करें किसी भी स्थिति में दूसरे राज्यों से वाहनों पर लोड धान सिहोरा और मझौली तहसील में प्रवेश न करने  पाए।

                      बॉक्स
धनगवां सरकारी वेयरहाउस और कृषक सेवा केंद्र में पकड़ी गई धान के लिए समिति गठित, जांच के बिंदु तय

सोमवार को मझौली तहसील के धनगवां सरकारी वेयरहाउस और कृषक सेवा केंद्र में पकड़ी गई दो ट्रक धान जो उत्तर प्रदेश से लाई गई थी। बोरों में उत्तर प्रदेश सरकार की सील भी लगी हुई थी। इस मामले में एसडीएम ने जांच के लिए समिति गठित कर दी है इस समिति में तहसीलदार, फूड इंस्पेक्टर सहित दो और लोगों को रखा गया है। समिति को जो जांच के बिंदु दिए गए हैं उसमें यह धान कहां से आई, धान किसने वेयर हाउस में रखवाई के साथ धान को मंगवाने वाला संबंधित व्यापारी कौन है इसकी जांच की जाएगी। जांच के बाद आगे की कार्यवाही इसमें जल्द से जल्द की जाएगी।
Previous Post Next Post