रसूखदार के नहीं तोड़े कब्जे, गरीबों की छीन ली रोजी रोटी

रसूखदार के नहीं तोड़े कब्जे, गरीबों की छीन ली रोजी रोटी

सिहोरा बस स्टैंड के अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर पालिका के अमले पर लोगों ने लगाया पक्षपात का आरोप, उपयंत्री सहित अमले से जमकर बहस, हंगामा


सिहोरा

सिहोरा बस स्टैंड में शुक्रवार को अतिक्रमण तोड़ने जेसीबी लेकर पहुंचे नगर पालिका के अमले को लोगों के जमकर विरोध का सामना करना पड़ा लोगों ने आरोप लगाया कि अतिक्रमण तोड़ने की कार्रवाई में प्रशासन भेदभाव कर रहा है। रसूखदार लोगों के कब्जे नहीं तोड़े गए वही गरीबों की रोजी-रोटी छीन छीनी जा रही है। अतिक्रमण तोड़ने की कार्रवाई के दौरान हंगामे की भी स्थिति बन गई। इसके बावजूद अतिक्रमण दस्ते ने सिहोरा बस स्टैंड से लेकर करीब आधे किलोमीटर के एरिया में जमे अतिक्रमण को या तो तोड़ डाला या अलग कर दिया। नगर पालिका के अमले की इस कार्रवाई को लेकर सवाल भी खड़े हो रहे हैं।

नगर पालिका सिहोरा का अतिक्रमण दस्ता करीब चार बजे के लगभग सिहोरा बस स्टैंड पहुंचा वहां जमे चाय पान के ठेलों को अमले ने हटाना शुरू किया, लेकिन बस स्टैंड में स्थित एक दुकान जिसमें करीब 10 फुट से 20 फुट तक  कब्जा कर रखा था। उसे जेसीबी से नहीं तोड़ा गया जिसको लेकर लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। देखते ही देखते भारी संख्या में लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गए और अतिक्रमण दस्ते के प्रभारी उपयंत्री आर पी शुक्ला से लोगों ने बहस शुरू कर दी जिसको लेकर तनाव की स्थिति बन गई।

प्रभावशाली और जनप्रतिनिधि ने सड़क पर कर रखा है कब्जा, वहां नहीं चला बुलडोजर
स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि नगरपालिका का अतिक्रमण दस्ता प्रभावशाली और जनप्रतिनिधियों द्वारा सड़कों पर करीब आठ से 10-10 फुट कब्जा होने के बावजूद उन पर मेहरबान है। उनकी दुकान है जो सामने तक पक्की बनी है वहां बुलडोजर नहीं चलाया गया, वही गरीबों की रोजी-रोटी पर प्रशासन कार्रवाई कर रहा है जो साफ दर्शाता है कि प्रशासन पक्षपातपूर्ण कार्रवाई कर रहा है।


सिर्फ दिखावे की कार्रवाई, कुछ दिनों बाद बन जाएगी वही स्थिति

लोगों का यह भी कहना था कि स्थानीय प्रशासन की सिर्फ दिखावे की कार्रवाई है कुछ दिनों बाद अतिक्रमणो की स्थिति फिर वही बन जाएगी। वैसे देखा जाए तो प्रशासन ने बिना तैयारी के ही अतिक्रमण ओं को तोड़ने और हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी थी मुट्ठी भर अमले के साथ।

करीब आधा किलोमीटर के एरिया के हटाए गए अतिक्रमण और चाय पान के टपरे

नगर पालिका के अतिक्रमण दस्ते ने सेवड़ा बस स्टैंड से करीब आधा किलोमीटर के एरिया में जमे चाय पान के टपरों को को हटाकर अलग कर दिया कुछ दुकानदारों के सामने के शेड भी हटाए गए। अब देखना यह होगा कि प्रशासन खितौला मोड़ से लेकर मनसकरा तक दोनों तरफ कब तक पक्के अतिक्रमण हो और दुकानों के सामने के कब्जों को हटाता है।
Previous Post Next Post