विधानसभा में उठाऐं सिहोरा जिला मुद्दा जनप्रतिनिधिधरनारत समिति ने की मांग,ग्यारहवें रविवार भी धरना जारी

विधानसभा में उठाऐं सिहोरा जिला मुद्दा जनप्रतिनिधि
धरनारत समिति ने की मांग,ग्यारहवें रविवार भी धरना जारी

सिहोरा
माँ भी बच्चे के रोने पर ही उसकी भूँख मिटाने का जतन करती है,यदि सिहोरा के जनप्रतिनिधि सिहोरा जिला की मांग उठायेंगे ही नही तो सरकार भी क्यों सिहोरा को बनाएंगी।उक्त वक्तव्य देते हुए सेवानिवृत्त प्राध्यापक नागेंद्र कुररिया ने मांग की कि आज 20 दिसंबर से होने वाले विधानसभा सत्र में स्थानीय जनप्रतिनिधि सिहोरा जिला की मांग विधानसभा में उठाएँ।
          सिहोरा को जिला बनाए जाने की मांग को लेकर लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति सिहोरा का प्रत्येक रविवार को होने वाला धरना ग्यारहवें रविवार भी जारी रहा।धरनारत सभी वक्ताओं ने एकस्वर में अपना संकल्प दोहराया कि जब तक सिहोरा को जिला नही बनाया जाता आंदोलन जारी रहेगा।
मुख्यमंत्री से मांगा समय-* लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति के विकास दुबे,सुशील जैन,सुखदेव कौरव,अनिल जैन ने बताया कि समिति ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा हैं।समिति ने कहा कि वे सिहोरा जिले के अपने पक्ष को मुख्यमंत्री के समक्ष रख जिले के अपने हक को सामने रखेंगे।
          आज ग्यारहवें धरने में श्रीकांत पाठक,सेंकी जैन,प्रबल त्रिपाठी,पवन तिवारी,रामजी शुक्ला,ऋषभ दुबे,सुधीर अवस्थी,कृष्ण कुमार कुररिया,मानस तिवारी,प्रयास मिश्रा,मनमोहन द्विवेदी, प्रकाश मिश्रा,ऋषि गर्ग सहित अनेक सिहोरावासी मौजूद रहे।
Previous Post Next Post