शराब दुकान में विवाद, तोडफ़ोड़

शराब दुकान में विवाद, तोडफ़ोड़ 


गोसलपुर थाना स्थित अंग्रेजी शराब दुकान में रात की घटना, 
सिहोरा

गोसलपुर के ग्राम जुझारी स्थित शराब दुकान कर्मियो और कुछ युवकों में विवाद हो गया। इस दौरान दोनों पक्षों ने एक दूसरे से मारपीट की। वहीं गांव के युवकों ने दुकान में तोडफ़ोड़ कर शराब की बोतलें फोड़ दी। मामले में गोसलपुर पुलिस ने दोनों पक्षों पर प्रकरण दर्ज किया है।


पुलिस ने बताया कि ग्राम जुझारी स्थित शराब दुकान में शुक्रवार सुबह कर्मचारी सूरज जयसवाल, दीपेन्द्र व एक अन्य युवक बैठे थे। तभी वहां ग्राम जुझारी निवासी बलराम पटेल व अन्य पहुंचे। किसी बात पर बलराम और सूरज का विवाद हो गया। इस दौरान दोनों पक्ष गुत्थमगुत्था हो गए। बलराम व उसके साथियों ने दुकान पर पथराव कर तोडफ़ोड़ कर दी। घटना के बाद बलराम वहां सेभाग निकला। जिसके बाद सूरज की रिपोर्ट पर पुलिस ने हस्तक्षेप अयोग्य अपराध की सूचना दर्ज की, वहीं बलराम की रिपोर्ट पर सूरज, दीपेन्द्र व एक अन्य के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया।

सुबह भी हुआ था विवाद, उधारी के रुपए को लेकर बात आई सामने

सूत्रों से हासिल जानकारी के मुताबिक जिन लोगों ने शराब दुकान में तोड़फोड़ और मारपीट की वारदात को अंजाम दिया है। उनका सुबह शराब दुकान के कर्मचारियों से मारपीट हुई थी जिसको लेकर गोसलपुर थाने में मामला भी दर्ज है। वही जानकारी यह भी सामने आ रही है कि पूरा मामला उधारी के आरोपियों को लेकर है जिसके चलते शराब दुकान में तोड़फोड़ और मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया। 


लूट की वारदात की खबर तेजी से फैली, पुलिस का कहना कोरी है अफवाह

अंग्रेजी शराब दुकान में तोड़फोड़ की घटना के बाद क्षेत्र में तेजी से यह खबर उड़ी की शराब दुकान में लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस अधिकारियों के पास भी इसको लेकर लगातार फोन आते रहे की अंग्रेजी शराब दुकान में तोड़फोड़ के साथ आरोपियों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया है, वहीं इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि लूट की वारदात की खबर सिर्फ कोरी अफवाह है। पूरा मामला उधारी के पैसों के लेनदेन का है। सीसीटीवी फुटेज में भी इस बात की पुष्टि हुई है कि लूट की कोई वारदात नहीं हुई है। सिर्फ मारपीट की घटना और तोड़फोड़ की हुई है।


इनका कहना

गोसलपुर स्थित अंग्रेजी शराब दुकान में मारपीट और तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। पूरा मामला उधारी के पैसों से जुड़ा हुआ है, सीसीटीवी फुटेज में भी इस बात की पुष्टि हुई है। लूट की घटना सरासर गलत है ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है।


श्रुत्कीर्ति सोमवंशी, एसडीओपी सिहोरा
Previous Post Next Post