कोहरे के कारण सामने से आने वाले वाहन तक दिखाई देना हुए मुश्किल

कोहरे के कारण सामने से आने वाले वाहन तक दिखाई देना हुए मुश्किल

बंजारी माता पुल पर विद्युत व्यवस्था व संकेतक लगाने की मांग

सिहोरा
वर्तमान समय में रात्रि के समय बर्फीली ओस ओर सुबह के समय कोहरे की वजह से एन एच 30 पहुंच मार्ग के पुल पर खतरा बढ़ गया है। वाहन चालकों को इस मौसम में यह पुल दिखता नहीं है। बंजारी माता मंदिर गाँधीग्राम  के किनारे स्थित करदही नदी पुल जो राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 को जोड़ने वाली मुख्य सड़क है।वर्षों से पुल की रेलिंग व सुरक्षा की दीवार गायब है जिससे वाहनों, राहगीरों,भक्तों को पुल से गिरने का खतरा बना रहता है। रेलिंग न होने की वजह से अंधेरे में व सुबह के वक्त कोहरा छाने से अनेकों बार भार वाहक व यात्री वाहन इस पुल के नीचे गिर चुके हैं व दुर्घटनाग्रस्त हो चुके हैं। बावजूद इसके शासन-प्रशासन ने रेलिंग लगाने की जहमत नहीं उठाई।यहाँ पर दोनों ओर लाईट आदि की व्यवस्था भी नहीं है।
 रेलिंग टूटने से पुल की बाउंड्री व सड़क मार्ग का कुछ हिस्सा अनेकों बार वाहन गिरने से टूट चुका है, जिसके कारण पुल के दोनों ओर प्रवेश मार्ग पर खतरे के गड्ढे बन चुके हैं। सड़क मार्ग का बहुत सा हिस्सा दोनों और टूट जाने की वजह से धराशाई हो कर पुल के नीचे गिर चुका है रात्रि के समय व ठंड में सुबह के वक्त कोहरे होने पर वाहन चालकों को उक्त स्थान नहीं दिखता। जिससे इस मार्ग से गुजरते ही वाहन सीधे नदी में जाकर समा जाते हैं और दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं।  बंजारी माता मंदिर सेवा समिति के अरविंद सिंह गौर, राजू सोनी, लक्ष्मी असाटी, शिवदत्त मिश्रा,आशीष आचार्य भूपेंद्र चौरसिया, सोनू कुररिया, योगेंद्र मिश्रा ने पुल पर सुरक्षा दीवार और रेलिंग तुरंत लगाने की मांग की है।
Previous Post Next Post