साले के बाद जीजा ने भी इलाज के दौरान तोड़ा दम

साले के बाद जीजा ने भी इलाज के दौरान तोड़ा दम

मझौली थाना क्षेत्र के इंद्राना चौकी के सामने सोमवार को हुई थी बाइक और बस में भिड़ंत
 दोनों शवों का पीएम करा पुलिस ने दर्ज किया मामला

मझौली

 चंडी मेला देखकर सोमवार रात घर लौट रहे बाइक सवार जीजा साले को यात्री बस ने जोरदार टक्कर मार दी। घटना में जहां साले की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं मेडिकल अस्पताल में उपचार के दौरान मंगलवार सुबह जीजा ने भी दम तोड़ दिया। मंगलवार को पुलिस ने दोनों शवों का पीएम कराया। पुलिस ने आरोपी बस चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है।
पुलिस ने बताया कि ग्राम सिलहटी निवासी जितेन्द्र बर्मन ने बताया कि वह भाई विनोद बर्मन उर्फ छोटू, ग्राम हरसिंगी निवासी जीजा बबलू बर्मन और रामू बर्मन के साथ चंडी मेला देखने गया था। चारों वहां से लौट रहे थे। विनोद ने अपनी बाइक में जीजा बबलू को बैठाया था। वहीं दूसरी बाइक में जितेन्द्र के साथ रामू बर्मन था। इन्द्राना पेट्रोल पंप में दोनों बाइकों में पेट्रोल डलवाया और वहां से वे निकले, लेकिन जैसे ही इन्द्राना के सिलहटी मोड पर पहुंचे, तभी बस एमपी 20 पीए 0254 के चालक ने विनोद की बाइक को टक्कर मार दी। टक्कर के साथ ही बबलू और विनोद सडक़ पर जा गिरे। विनोद को सिर में गंभीर चोटे आई और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

मेडिकल में कराया भर्ती

घटना में बबलू को भी गंभीर चोटें आई। उसे तत्काल मझौली स्थित शासकीय अस्पताल ले जाया गया। उसे प्राथमिक उपचार के बाद मेडिकल अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां उपचार के दौरान बबलू ने मंगलवार सुबह दम तोड़ दिया। दोनों शवों का मंगलवार को पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया। जिसके बाद शवों को परिजनों को सौंप दिया।

तेज रफ्तार में थी बस

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बस काफी तेज रफ्तार में थी। वह यात्रियों को लेकर पनागर की ओर से जा रही थी। घटना के बाद बस चालक यात्रियों से भरी बस को छोडकऱ मौके से भाग निकला। पुलिस ने बस को जब्त कर लिया है। आरोपी चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी गई है।
वर्ष 2008 में ख्ररीदी थी बस
परिवहन विभाग की वेबसाइट के अनुसार बस मझौली निवासी पारस राम राय पिता मूलचंद राय के नाम पर रजिस्टर्ड है। बस को वर्ष 2008 में खरीदा गया था। बस का परमिट जबलपुर से लेकर सिमरिया तक का था। उसमें 32 सवारियों की अनुमति थी, लेकिन लोगों ने बताया कि बस में 40 से45 सवारी सवार थी।
Previous Post Next Post