चार बच्चों को चिकित्सकों ने किया मेडिकल रेफर, लगातार हो रही थी उल्टियां छा रही थी बेहोशी

चार बच्चों को चिकित्सकों ने किया मेडिकल रेफर, लगातार हो रही थी उल्टियां छा रही थी बेहोशी


ढकरवाह पिपरिया में बेर समझकर 11 बच्चों ने खा लिए थे अरंडी के बीज


बाकी बच्चों के स्वास्थ्य में हुआ सुधार परिजन ले गए अपने साथ

सिहोरा

ढकरवाह पिपरिया गांव में सोमवार शाम स्कूल से लौटने के दौरान बेर समझकर अरंडी के बीज खाने वाले 11 बच्चों में से चार को लगातार उल्टियां होने और बेहोशी के चलते रात में जबलपुर के मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है। मेडिकल में दिल आज रात बच्चों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।


ये था पूरा मामला

ढकरवाह पिपरिया गांव में शासकीय प्राथमिक शाला प्राथमिक शाला में पढ़ने वाले 6 से 10 वर्ष के 11 बच्चों सड़क के किनारे लगे अरंडी के बीज को बेर समझकर खा लिया था। घर पहुंचने पर जब बच्चों ने उल्टियां करना शुरू किया तो परिजन घबरा गए। परिजन 108 एंबुलेंस और निजी वाहन से बच्चों को सिहोरा सिविल अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जिनका सिहोरा सिविल हॉस्पिटल के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. हृदेश पांडे ने इलाज शुरू किया। 11 बच्चों में से 4 बच्चों को लगातार उल्टियां और बेहोशी आने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज जबलपुर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया। 

इन बच्चों को रेफर किया गया मेडिकल कॉलेज

सिहोरा सिविल हॉस्पिटल से हासिल जानकारी के मुताबिक मानव ठाकुर (7) , राधिका सिंह (10), अनुराग (10) को लगातार बेहोशी और उल्टीयों के चलते मेडिकल कॉलेज जबलपुर रेफर किया गया।
Previous Post Next Post