हंगामे, विरोध के बीच जेसीबी से टूटे अतिक्रमण

हंगामे, विरोध के बीच जेसीबी से टूटे अतिक्रमण
सिहोरा में नपा के अतिक्रमण और प्रशासन ने दर्जन से अधिक शेड, पक्के अतिक्रमण को तोड़ा

 12 बजे से शुरू हुआ अभियान देर शाम तक चला, दुकानों के सामने बनी नाली की पट्टी तोड़ने को लेकर दुकानदारों ने किया जमकर विरोध

सिहोरा

सिहोरा बस स्टैंड में रविवार को अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई को लेकर जमकर हंगामा और विरोध का सामना प्रशासन को करना पड़ा। 12 बजे से शुरू हुई अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई दोपहर तक तो ठीक-ठाक चलती रही, लेकिन दोपहर बाद नगर पालिका के अतिक्रमण अमले की जेसीबी ने जैसे ही दुकानदारों के दुकान के सामने की नाली की पट्टी को तोड़ा, उसके बाद हंगामा शुरू हो गया। हंगामा और विवाद के बीच स्थिति हाथापाई तक पहुंच गई। करीब आधे घंटे से अधिक समय तक हंगामे और तनाव की स्थिति बनी रही। नपा और प्रशासन के अमले ने करीब 2 दर्जन से अधिक दुकानदारों के शेड और पक्के निर्माण को जेसीबी से तोड़ डाला। कार्रवाई देर शाम तक चलती रही।

दुकानदारों को दो दिन का समय देने के बाद बड़े हुए अतिक्रमण को तोड़ने का काम बस स्टैंड सिहोरा में नगर पालिका के अतिक्रमण दस्ते ने शुरू किया। इस बीच कई दुकानदारों ने अपने बढ़े शेड खुद ही अलग कर लिए। जेसीबी ने बढ़े हुए एंक्रोचमेंट को तोड़ डाला। दोपहर बाद जैसे ही अमले ने दुकानों के सामने बनी नाली की पट्टी को थोड़ा उसके बाद हंगामे की स्थिति बन गई देखते ही देखते दुकानदारों की भारी भीड़ मौके पर जमा हो गई और नगरपालिका के उपयंत्री आरपी शुक्ला सहित अन्य अमले के साथ बहस शुरू हो गई।

भाजपा नेताओं से धक्का-मुक्की, मारपीट की स्थिति बन गई

इस बीच भाजपा भाजपा के स्थानीय नेता मौके पर पहुंचे और नगर पालिका द्वारा दुकानों के सामने बनी नाली की पट्टी अतिक्रमण अमले द्वारा तोड़े जाने का विरोध किया। जिसके बाद दुकानदारों और भाजपा नेताओं के बीच धक्का-मुक्की के साथ मारपीट की स्थिति बन गई। दुकानदारों का कहना था कि जब इस तरफ की दुकानों की नाली की पट्टी थोड़ी जा रही है तो दूसरी तरफ की भी नाली की पट्टी तोड़ी जाए। करीब आधे से  एक घंटे तक तनाव की स्थिति बनी रही। भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि नगर पालिका और प्रशासन का अमला अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई तो सही कर रहा है लेकिन मौके पर कोई भी जिम्मेदार अधिकारी मौजूद नहीं है। पुलिस का अमला भी मौके पर मौजूद नहीं है।

मौके पर पहुंचे अधिकारी, स्थिति को संभाला, दुकानदारों को दी समझाइश

हंगामे और विरोध की खबर लगते ही मौके पर एसडीएम और प्रशासक नगर पालिका आशीष पांडे, मुख्य नगरपालिका अधिकारी जय श्री चौहान पहुंचे। उन्होंने स्थानीय भाजपा नेता और दुकानदारों को समझाया। साथ ही विरोध कर रहे दुकानदारों को आश्वस्त किया कि किसी का भी अतिक्रमण छोड़ा नहीं जाएगा दुकानों के इस तरह की नाली की पट्टी तोड़ी गई है तो दूसरी तरफ की दुकानों की भी नाली की पट्टी तोड़ी जाएगी किसी के साथ भी भेदभाव नहीं होगा। जिसके बाद किसी तरह स्थिति संभल पाई।
Previous Post Next Post