Weenews - समीक्षा बैठक में बोले मस्तूरी विधायक - मस्तूरी के एक - एक महिला स्वयं सहायता समूह बनें स्वावलंबी

बिलासपुर। जनपद  सभागार में  राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के जनपद स्तर /विकासखण्ड स्तर व विधायक निधि से होने वाले कार्यों को गति प्रदान करने तथा संबंधित रेखीय विभागों की योजनाओं के कन्वरजेन्स से परियोजना आच्छादित परिवारों को अधिक से अधिक लाभान्वित करने के उद्देश्य से समीक्षा बैठक रखी गई जो मस्तूरी विधायक डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी  की अध्यक्षता में  आयोजित की हुई। बैठक में मस्तूरी विधायक  ने एनआरएलएम के तहत ग्रामीण परिवारों को सक्षम बनाकर उनकी जीवन शैली में सुधार लाते हुए रोजगार बढ़ाने की दिशा में आवश्यक कदम उठाये जाने की बात कही। उन्होंने विकासखंड की सभी महिलाओं को इससे जोड़े जाने पर बल दिया तथा स्वयं सहायता समूहों को सुदृढ़ करने की बात की। इस अवसर पर भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान के माध्यम से जनपद में ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत चलाये जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त की। तथा इसके तहत महिलाओं को स्वालंबी बनाने पर जोर दिया। साथ  राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में बैठक में मस्तूरी के जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुमार सिंह सहित यूनिसेफ की जिला समन्वयक रीमा  गांगुली सहित एनआरएलएम के अधिकारी उपस्थित रहे।

 टीकाकरण के लिए आईएसई की टीम  ग्रामीणों को करेगी जागरूक

 यूनिसेफ की जिला समन्वयक रीमा गांगुली ने बताया कि शतप्रतिशत वेक्सीनेशन को लेकर आई एस ई की टीम घर- घर लोगों को जागरूक करेगी । उन्होंने  जनपद की बैठक में  स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों मितानिनों आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर लोगों को कोरोना के नए वेरिएंट और टीकाकरण के बारे में जानकारी दी और  कहा कि आज भी लोगों की सुनी सुनाई बातों पर समुदाय यकीन कर लेता है,जबकि टीकाकरण ही सबसे कारगर हथियार है जो हमें कोरोना से बचा सकता है।
Previous Post Next Post