सुरक्षा का टीका, उत्साहित टीनएजर्स

सुरक्षा का टीका, उत्साहित टीनएजर्स


सिहोरा ब्लॉक में 2735, मझौली में 4000 किशोर और किशोरियों को लगा भविष्य का टीका

39 वैक्सीनेशन सेंटर में को वैक्सीन लगवाने सुबह से लग गई थी लाइन

 सिहोरा में 50% तो मझौली में 80% छात्र-छात्राओं को लगाई गई वैक्सीन


सिहोरा/मझौली 

कल के भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए सोमवार से स्कूलों को कोविड-19 वैक्सीन का टीका लगना शुरू हो गया। वैक्सीन को लेकर टीनएजर्स में गजब का उत्साह देखने को सुबह से ही मिलने लगा था वैक्सीनेशन सेंटर में बच्चे अपने माता-पिता की सहमति पत्र के साथ वैक्सीन लगाने उत्साह के साथ लाइन में लगने लगे। सिहोरा और मझौली विकासखंड में पहले ही दिन 15 से 18 आयु वर्ग के करीब आठ हजार के छात्र-छात्राओं को को-वैक्सीन का टीका लगाया गया। सुबह 9:30 बजे से शुरू हुआ वैक्सीनेशन का काम शाम 4:30 बजे तक चलता रहा।

स्कूलों में लगी बच्चों की लंबी लाइन, सहमति पत्र के साथ पहुंचे

वैक्सीनेशन को लेकर किशोर और किशोरियों में गजब का उत्साह देखने को मिला। सिहोरा सिविल हॉस्पिटल के प्रभारी डॉ आर्यन तिवारी ने बताया कि सिहोरा ब्लॉक के 15 केंद्रों में 5395 छात्र छात्राओं ने वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था। शाम तक 2735 छात्र छात्राओं को को-वैक्सीन का पहला डोज लगाया गया। मतलब करीब 50% बच्चों को पहले ही दिन वैक्सीन का पहला डोज रजिस्ट्रेशन के आधार पर लगाया जा चुका था। शिवरा नगर के पंडित विष्णु दत्त शुक्ल शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में वैक्सीन लगवाने के लिए बच्चों की लंबी लाइन देखी गई। 


मझौली में 80% छात्र छात्राओं को लगाया गया वैक्सीन का डोज

मझौली ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर पारस ठाकुर ने बताया कि वैक्सीनेशन को लेकर 24 सेंटर में छात्र-छात्राओं में गजब का उत्साह देखने को मिला। छात्र-छात्राओं ने वैक्सीन लगवाने के बाद अपने अनुभव बताते हुए कहा कि कोविड-19 से बचने का वैक्सीन है सबसे बड़ा अस्त्र है। छात्राओं ने पालकों से अनुरोध किया कि वह अपने स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को वैक्सीन लगवाने के लिए सहमति पत्र के साथ भेजें। बीएमओ के मुताबिक मझौली ब्लाक में करीब 4000 छात्र-छात्राओं को वैक्सीनेट किया गया। वैक्सीनेशन सेंटर में 54 फील्ड वर्करों के साथ सात मेडिकल ऑफिसर को भी साथ में लगाया गया था। पहले दिन की बात की जाए तो रजिस्ट्रेशन के आधार पर करीब 80% बच्चों को पहले ही दिन वैक्सीन का पहला डोज लगाया गया।

12200 बच्चे चिन्हित किए गए हैं सिहोरा ब्लॉक में

डॉ आर्यन तिवारी के मुताबिक से सिहोरा  ब्लॉक में 15 से 18 आयु वर्ग के 12200 छात्र-छात्राओं को वैक्सीन लगाने के लिए चयनित किया गया है। वैक्सीनेशन के पहले ही 50% बच्चों को वैक्सीन लगना प्रचार प्रसार और परिजनों की वैक्सीन को लेकर अपने बच्चों को सहमति पत्र के साथ भेजने के कारण ही संभव हो सका है।
Previous Post Next Post