एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट को लेकर अधिवक्ताओं ने कोर्ट के सामने सड़क पर लगाया जाम

एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट को लेकर अधिवक्ताओं ने कोर्ट के सामने सड़क पर लगाया जाम

साथी अधिवक्ताओं पर लगातार हो रहे जानलेवा हमले को लेकर थे आक्रोशित


मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

सिहोरा

अधिवक्ताओं पर लगातार हो रहे जानलेवा हमले से आक्रोशित सिहोरा तहसील अधिवक्ता संघ के अधिवक्ताओं ने मंगलवार को सिविल कोर्ट के सामने सड़क पर जाम लगा दिया। अधिवक्ताओं ने पुलिस प्रशासन और मध्य प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की अधिवक्ताओं ने आरोप लगाया कि एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट को लागू करने में सरकार लगातार आनाकानी कर रही है जिससे अधिवक्ताओं पर लगातार जानलेवा हमले हो रहे हैं। करीब एकघंटे तक सड़क पर जाम की स्थिति बनी रहे। 

ये है पूरा मामला

तहसील अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष रविदीप सिंह बैस, सचिव संजय सिंह सेंगर, उपाध्यक्ष उमेश तिवारी, सह सचिव आनंद मणि त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष शिव प्रसाद पटेल, ग्रंथपाल आलोक ब्यौहार,कार्यकारिणी सदस्य आशीष ब्यौहार, राहुल तिवारी, आलोक तिवारी, नित्येन्द्र पांडे, विनोद पटेल के साथ वरिष्ठ अधिवक्ताओ ने आरोप लगाया कि सिहोरा के अधिवक्ता नितिन शुक्ला के ऊपर एक जनवरी को गाड़ी चढ़ा कर जानलेवा हमले का प्रयास किया गया। जिसमें एक व्यक्ति की जान चली गई। पूर्व में भी छिंदवाड़ा में एक अधिवक्ता की हत्या कर दी गई। संपूर्ण मध्यप्रदेश में अधिवक्ताओं के विरुद्ध हमले आपराधिक तत्वों द्वारा किए जा रहे हैं। ऐसी स्थिति में समस्त अधिवक्ता समुदाय बहुत दुखी एवं आक्रोशित है।

मौके पर पहुंचे पुलिस और प्रशासन का अमला मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

सड़क पर जाम लगने से दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई। जाम लगने की खबर लगते ही पुलिस और प्रशासन का अमला मौके पर पहुंचा। अधिवक्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार राकेश चौरसिया को ज्ञापन सौंपकर जल्द से जल्द एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग की।
Previous Post Next Post