खेरमाई बगीचे में धरोहर चंदन वृक्ष को अज्ञात चोरों ने चुरा ले गये

खेरमाई बगीचे में धरोहर चंदन वृक्ष को अज्ञात चोरों ने चुरा ले गये
मझगवां थाना क्षेत्र के कुम्हि सतधारा क्षेत्र का मामला : घटना को लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश

 सिहोरा

सिहोरा तहसील के मझगवां थाना के अंतर्गत कूम्ही सतधारा के खेरमाई परिसर में दर्जनों औषधि वृक्ष,  मीठे फल वृक्ष, और छोटी औषधियों का बगीचा लगा हुआ है। उस बगीचे में चंदन के वृक्ष भी लगे है। जिसमें चंदन वृक्ष सहित अन्य औषधियां करीब पिछले 18 वर्ष से मंदिर के पंडा द्वारा खाद्म पानी देकर उस बगीचे की सुरक्षा किया जा रहा था। अज्ञात वन मफियों के संरक्षण में शनिवार देर रात 18 वर्ष पुराना, 12 इंच मोटा, करीब 20 फुट ऊंचाई वाला चंदन का वृक्ष काटकर रातों-रात गायब कर दिया गया है। जिसकी कीमत ग्रामीणों द्धारा डेढ़ लाख बताया जा रहा है।
                    
सुबह पंडा पूजन के लिए पहुंचा तो कटी हुई टहनियां पड़ी थी


सुबह खेरमाई मंदिर पंडा व ग्रामीणों ने पूजा अर्चना करने पहुंचे, तो देखा कि बगीचे में चंदन वृक्ष की टहनियां कटी, बिखरी डली थी। चंदन वृक्ष का नीचे से मैन तना कटा हुआ गायब मिला । जिसकी तुरंत पंडा सुनील कोल और ग्रामीणों ने पुलिस को जानकारी दिया। पुलिस तुरंत खेरमाई बगीचे में आकर चोरी की कार्यवाही करते हुए मामला को संज्ञान में लिया, और अज्ञात चोरों की तलाश में जुट गई। 

तत्काल करे पुलिस कार्रवाई अज्ञात चोरों को जल्द से जल्द पकड़े

भारतीय किसान संघ अध्यक्ष सुरेश पटेल, सुजीत मिश्रा, मोहन मिश्रा, कैलाश तिवारी, देवेंद्र कोल, बॉबी कोल, सुखचैन कोल, आदि ग्रामीणों ने चंदन के वृक्ष को काटे जाने पर घोर निंदा किया है। साथ में पुलिस प्रशासन से अज्ञात चोरों पर कार्रवाई करने की मांग किया है। 
                   
इनका कहना
   शनिवार देर रात खेरमाई परिसर में लगा चंदन का वृक्ष अज्ञात चोरों ने काटकर चुरा ले गए हैं। स्पाट की जांच कर मामला संज्ञान में ले लिया गया है, चोरों की तलाश जारी है।

एएल सरयाम, टीआई मझगवाँ
Previous Post Next Post