नेशनल हाईवे 30 जबलपुर-कटनी मार्ग पर बने बघेला नाला के पुल की कांक्रीट सड़क क्रेक होने के बाद धस गई।

नेशनल हाईवे 30 जबलपुर-कटनी मार्ग पर  बने बघेला नाला के पुल की कांक्रीट सड़क क्रेक होने के बाद धस गई। 
सिहोरा

कुछ ही साल पहले बने नेशनल हाईवे के निर्माण की गुणवत्ता पर इससे सवाल उठने लगे हैं कि आखिर सड़क को किन गुणवत्ता मानकों के तहत बनाया गया था। सीमेंट कंक्रीट सड़क बनने के कुछ ही महीने बाद इसमें क्रैक आ गए थे इन क्रैको को भरने के लिए संबंधित विभाग द्वारा केमिकल और डामर युक्त रेत से भरने की कई बार कोशिश की गई लेकिन वाहनों के अत्याधिक दबाव के कारण यह सड़क मार्ग का हिस्सा और अधिक ढक गया साथ ही दरारें भी पहले से अधिक चौड़ी हो गई। बघेला नाला पुल के दरार युक्त पूरे हिस्से को जेसीबी मशीन से तोड़कर बनाने का काम शुरू किया गया है। जब भी कोई वाहन यहां से निकलता है तो पूरा पुल कंपन करने लगता है वास्तव में इस पुल की सड़क का संपूर्ण हिस्सा जो लंबा और दरार युक्त है इसके कारण कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।
Previous Post Next Post