Ticker

6/recent/ticker-posts

बिलासपुर में कोरोना के आकड़ो में गिरावट, जिले में सिर्फ 53 मिले नए संक्रमित

बिलासपुर । जिले में कोरोना मरीजों की संख्या बहुत तेजी से घट रही है। रविवार को आई जांच रिपोर्ट के अनुसार जिले में महज 53 नए संक्रमित पाए गए। जबकि उपचार के बाद 87 लोग स्वस्थ भी हुए। इस तरह जिले में सक्रिय केसों की संख्या घटकर महज 725 रह गई। इसके बावजूद स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की है। वहीं एक 83 वर्षीय कोरोना पाजिटिव महिला की मौत हुई है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार रविवार को करीब 1,405 लोगों की कोविड जांच की गई। शाम को आई जांच रिपोर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा शहर में 78 लोग संक्रमित पाए गए। इनमें शहर के मोहल्ले विनोबा नगर, विा नगर, तारबाहर, रेलवे परिक्षेत्र, पुराना बस स्टैंड क्षेत्र, राजेंद्र नगर, नेहरू नगर, जरहाभाठा, सरजू बगीचा आदि के रहने वाले शामिल हैं। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र अंतर्गत कोटा, तखतपुर में लगातार मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है।

जितने भी मरीज मिल रहे हैं, उन्हें जांच रिपोर्ट आने के बाद होम आइसोलेट करा दिया गया है और चिकित्सकों की टीम को इन पर नजर रखने के आदेश दिए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग का कहना है इसके बाद भी लोगों से अपील की जाती है कि पूरी तरह से सतर्क रहें और यदि घर से निकल रहे हैं तो कोविड नियमों का पूरी तरह से पालन करें। खतरा अभी टला नहीं है। सीएमएचओ डा. प्रमोद महाजन ने बताया कि जिले में कोरोना के नए केस तेजी से कम हो रहे हैं। रविवार को आई जांच रिपोर्ट के अनुसार महज 53 नए मरीज पाए गए हैं। जबकि उपचार के बाद 87 लोग स्वस्थ भी हुए हैं। इसके बाद भी लोगों को लापरवाही नहीं करनी है और पूरी तरह से सतर्क रहना है। यदि बहुत जरूरी हो तभी अपने घर से निकलें अन्यथा घर पर रहें और सुरक्षित रहें।

वैक्सीनेशन व गाइडलाइन का पालन जरूरी
स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए वैक्सिनेशन से साथ-साथ कोरोना गाइडलाइन का पालन आवश्यक है। जिलेवासी वैक्सीनेशन के साथ ही घर से बाहर निकलने की स्थिति में हमेशा मास्क का प्रयोग करते रहें, ताकि ड्रापलेट्स के जरिये कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इसके साथ ही सभी लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकलने की स्थिति में अनिवार्य रूप से शारीरिक दूरी के नियम के तहत एक दूसरे से कम से कम दो गज की दूरी बरतें।

73 अब भी अस्पताल में भर्ती

कोरोना की तीसरी लहर अब खत्म होने के कगार पर आ गया है। इसके बावजूद भी बुजुर्ग वर्ग पर यह घातक असर छोड़ रहा है। ऐसे में बुजुर्गों की मौत भी हो रही है। मौजूदा स्थिति में 73 मरीज अस्पताल में भर्ती चल रहे हैं। उनमें से 67 निजी अस्पताल और छह मरीज कोविड अस्पताल में भर्ती हैं।