Ticker

6/recent/ticker-posts

मृत भैंस में मिलाया था आरोपी ने जहर खाने से हुई थी तेंदुए की मौत

मृत भैंस में मिलाया था आरोपी ने जहर खाने से हुई थी तेंदुए की मौत

वन परिक्षेत्र सिहोरा की सरदा बीट का मामला : कुर्रो पिपरिया गांव में 2 नवंबर को मिला था मृत तेंदुआ, आरोपी को वन विभाग के अमले ने दबोचा, न्यायालय ने भेजा जेल

सिहोरा 

वन परीक्षेत्र सिहोरा की सरदा बीट के कुर्रो पिपरिया गांव में नवंबर माह में नर तेंदुए की मौत जहर देने से हुई थी। वन विभाग सिहोरा के अमले ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी भकोली लाल कोल (50) निवासी कुर्रो पिपरिया के खिलाफ वन्य प्राणी अधिनियम संरक्षण 1972 की धारा 9 के तहत अवैध शिकार का प्रकरण दर्ज कर न्यायालय में पेश किया गया। जहां से न्यायालय ने उसे जेल भेज दिया। 
ये था पूरा मामला 
1  नवंबर 2021 की शाम वन परिक्षेत्र सिहोरा की सरदा बीट के कुर्रो पिपरिया गांव में खेत के बाजू में तेंदुए का शव पड़ा होने की सूचना वन विभाग को मिली। सूचना पर वन विभाग का अमला मौक़े पर पहुचा। तेंदुए की उम्र करीब 6 साल के लगभग बताई गई। प्रारंभिक जांच में वन विभाग के अमले ने पाया कि तेंदुए के शव पर कोई भी चोट के निशान नहीं थे। घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर खेत के पास एक भैंस मृत हालत में पड़ी थी। मामला संदिग्ध होने पर मौके पर डॉग स्क्वाड टीम को मौके पर बुलाया गया। पंचनामा कार्रवाई के बाद मृत तेंदुए के शव को पोस्टमार्टम के लिए वेटरनरी कॉलेज जबलपुर भेजा गया।
जहर देकर तेंदुए को मारने की आशंका, वन विभाग ने शुरू की जांच

वेटरनरी कॉलेज जबलपुर से मिली पोस्टमार्टम रिपोर्ट में तेंदुए की वास्तविक मौत का पता नहीं चला। ऐसी संभावना जताई जा रही थी कि तेंदुए को जहर देकर मारा गया। मृत तेंदुआ का विसरा सागर लैब भेजा गया। रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि तेंदुए बहुत जहरीला पदार्थ खाने से हुई  है। डीएफओ रंजना सुशील तिर्की के निर्देश पर टीम गठित की गई। एसडीओ मुकेश पटेल, रेंजर जेडी पटेल, डिप्टी रेंजर अबरार खान, बीटगार्ड राम चरण रजक ने मामले की जांच शुरू की।
मृत भैंस को छोड़ गया खेत में,डाल दिया जहर

जांच के दौरान डॉग स्क्वाड टीम ने आसपास के क्षेत्र में सर्चिंग की। सर्चिंग के दौरान डॉग कुर्रो पिपरिया निवासी भकोली कोल के घर भी गया। शंका होने पर वन विभाग के अमले ने जब उसे हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की तो उसने जहर का सारा सच खोल दिया। आरोपी ने बताया कि उसके घर की एक भैंस मर गई थी। जिससे खेत के बाजू में छोड़कर चला गया था। भैंस जल्द से जल्द गल जाए इसके लिए उसने खेत में उपयोग की जाने वाली कीटनाशक (जहर) डाल दिया था। भूखे तेंदुए ने मृत भैंस को खा लिया जिससे उसकी मौत हो गई।