Ticker

6/recent/ticker-posts

श्रीकृष्ण,जन्म पर झूमने लगे श्रद्धालु सांई परिसर में भागवत कथा

श्रीकृष्ण,जन्म पर झूमने लगे श्रद्धालु
      सांई परिसर में भागवत कथा

सिहोरा

 सांई परिसर रिलायंस पंप के पास चल रही  श्रीमद् भागवत कथा पुराण में बुधवार को धूमधाम से श्री कृष्ण का जन्मोत्सव मनाया गया। भगवान श्री कृष्ण का जैसे ही जन्म हुआ और बाल श्री कृष्ण को सुंदर वस्त्रों में सुसज्जित कर लाया गया वैसे ही कथा स्थल पर श्रोता नाच उठे बाल श्री कृष्ण के सजीव चित्रण को महसूस कर सजे हुए बालकृष्ण को अपनी गोद में लेकर आयोजक मंडल के बैजन्ती बद्री प्रसाद सोनी,दिलीप दीपशिखा सोनी आदि भक्त भगवान कृष्ण को गोदी में लेकर नाचने लगे।व्यासपीठ से सुभाष चैतन्य महाराज ने समुद्र मंथन,वामन चरित्र, श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का वर्णन  करते हुए कहा कि कंस इतना अत्याचारी था कि उसने अपने पिता अग्रसेन को भी कारागार में डाल दिया आगे कहा की  मुसीबत में केवल इंसान के भगवान ही साथ देते हैं। जबकि प्राणी मोहमाया और परिवार में के माया जाल में फसकर प्रभु को भूल जाता है।
       भगवान श्री कृष्ण और बलराम जन्म की कथा भक्तों को श्रवण कराते हुए कहा कि जब श्रीकृष्ण का जन्म हुआ तो अपने आप जेल के ताले खुल गए। और वासुदेव की बेडिया खुल गई। वासुदेव भगवान श्रीकृष्ण को जोकि इस संसार के पालन हार है एक टोकरी में लेकर अथाय यमुना नदी को पार कर यशोदा मां और नंदलाल के पास छोड़ जाते हैं। जिसकी कानो-कान खबर कंस को नहीं लग पाती।  भगवान श्रीकृष्ण के गोकुल में आनंद भयों जय कन्हैयालाल की हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैयालाल की सहित अनेक भजन सुनाकर श्रद्धालुओं को आनंदित कर दिया। कथा में विधायक नंदनी मरावी,शिशिर पांडे,माधव मिश्रा, राजकुमार तिवारी, प्रवीण कुररिया,राजेश मिश्रा, अशोक सोनी आदि ने व्यासपीठ का पूजन किया।