सरकारी खाद गोदाम में हो रहा मुरम का अवैध उत्खननमझौली तहसील के सुहजनी रोड़ का मामला

सरकारी खाद गोदाम में हो रहा मुरम का अवैध उत्खनन
मझौली तहसील के सुहजनी रोड़ का मामला :  रात के अंधेरे में जेसीबी से बेख़ौफ़ खोदी जा रही मुरम, लगातार कई रातों से चल रहा काम, शासन को लगा रहे लाखों का चूना

मझौली

रेत का अवैध उत्खनन तो लगातार हो ही रहा है जिस पर लगाम लगाने में प्रशासन पूरी तरह विफल रहा है। माफिया मुरम के अवैध खनन में लगे हैं, जिन्हें न तो प्रशासन का भय है और न ही पुलिस का। मामला जबलपुर जिले की मझौली तहसील का है, जहां रात के अंधेरे में माफिया जेसीबी से मुरम की अवैध खुदाई कर रहे हैं। मुरम का अवैध उत्खनन कर माफिया शासन को लाखों रुपए की चोट पहुंचा रहे हैं वही जिम्मेदार अधिकारी कार्रवाई करने से बच रहे हैं। 

जानकारी के मुताबिक मझौली तहसील के सुहजनी रोड सरकारी खाद गोदाम (डबल लॉक) की बाउंड्री वॉल के अंदर माफिया रात के अंधेरे में जेसीबी लगाकर मुरम का अवैध उत्खनन कर रहे हैं। अवैध उत्खनन का काम लगातार कई रातों से चल रहा है, लेकिन राजस्व, माइनिंग और पुलिस के अधिकारी यहां झांकने तक नहीं आ रहे आते। माफिया गौण खनिज मुरम का अवैध उत्खनन कर सरकार लंबा चूना लगा रहे हैं। वहीं अधिकारियों को अवैध उत्खनन से कोई फर्क नहीं पड़ रहा। कलेक्टर जबलपुर इलैयाराजा टी अवैध उत्खनन एवं अवैध निर्माण के खिलाफ लगातार अभियान चला रहे हैं, लेकिन इसके विपरीत मझौली तहसील में खुलेआम मुरम का अवैध उत्खनन हो रहा है।
सुरक्षित बाउंड्री वाल हुई असुरक्षित, किसानों की खाद रखने बनी थी गोदाम

मुरम माफिया के हौसले कितने बुलंद है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि मध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ द्वारा किसानों को खाद उपलब्ध कराने के लिए मझौली में यह गोदाम बनाया गया था। मुरम माफिया गोदाम के लिए बनी बाउंड्री वाल के अंदर अवैध खनन करने में लगे हैं। ऐसे में पूरी बाउंड्री वाल ही असुरक्षित हो गई है। गोदाम के अंदर लाखों रुपए का डीएपी और यूरिया रखा है। लेकिन ना तो इसकी विभागीय अधिकारियों को चिंता है और ना ही प्रशासनिक अमले को।

इनका कहना

सुहजनी रोड स्थित डबल लॉक के गोदाम में मुरम का उत्खनन करने की शिकायत मिली थी। मुरम देवेंद्र पटेल द्वारा खोल जा रही थी,।जिसकी जानकारी माइनिंग विभाग को दी गई है माइनिंग विभाग इसकी जांच कर कार्रवाई करेगा।

प्रदीप मिश्रा तहसीलदार, मझौली
Previous Post Next Post