Ticker

6/recent/ticker-posts

खितौला में मां का मोबाइल देखने से डांटना नागवार गुजरा बालक को, हुआ लापता

खितौला में मां का मोबाइल देखने से डांटना नागवार गुजरा बालक को, हुआ लापता

परिजनों ने थाने में दर्ज कराई अपहरण की रिपोर्ट तीन घंटे में पुलिस ने खोज निकाला लापता बालक को


सिहोरा 

बेटे को अपनी मां का मोबाइल देखने से डांटना इतना नागवार गुजरा कि वह बिना बताए घर से गायब हो गया। परेशान होते परिजनों ने पड़ोसियों और रिश्तेदारों में लापता बेटे की खोजबीन की लेकिन जब उसका कहीं पता नहीं चला तो थक हारकर वे थाने पहुंचे और बेटे की अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई। करीब तीन घण्टे के अथक प्रयास के बाद पुलिस ने बालक को दस्तयाब कर परिजनों के हवाले कर दिया। 

ये है पूरा मामला

सिहोरा एसडीओपी प्रभात शुक्ला के मुताबिक खितौला थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर 17 डॉक्टर रजक का बाड़ा निवासी निशा पति राजेश पटेल (32) ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उनके 9 साल का बेटा शिखर उर्फ नाइस पटेल रविवार को सुबह 10:00 बजे घर के सामने खेलते खेलते बिना बताए कहीं गायब हो गया। आसपास ढूंढने पर कोई अज्ञात व्यक्ति द्वारा बहला-फुसलाकर भगा कर ले गया है। शिकायत पर पुलिस ने धारा 363 का मामला दर्ज कर अपराध बालक की खोजबीन शुरू की। 


 मोबाइल देखने से डांटा था और कहा था कि कल से पेपर है और तुम दिन भर मोबाइल देखते रहते हो

उच्च अधिकारियों के निर्देश पर टीआई खितौला जे. मसराम टीम के साथ लापता बालक की पतासाजी करने में लगी। लोकल व्हाट्सएप ग्रुप पुलिस ग्रुप के अलावा सोशल मीडिया में लापता बालक की फोटो शेयर की। इस बीच सूचना मिली की आप रहते बालक शिखर और नाइस पटेल रेलवे स्टेशन मानस मंदिर के पास खेल रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने बालक को दस्तयाब कर बालक से पूछताछ की तो उसने बताया कि मां निशाने मोबाइल देखने से डांटा था और कहा था कि कल से पेपर है और तुम दिन भर मोबाइल देखते रहते हो। इसी बात से नाराज होकर वह घर से बिना बताए चला गया था दिन भर मोहल्ले के आसपास घूमता रहा। 


इनकी रही उल्लेखनीय भूमिका

बालक को दस्तयाब करने में सहायक उपनिरीक्षक जीसी चौधरी, रमेश तिवारी, आरक्षक अमित रैकवार, संदीप द्विवेदी, ब्रह्म दत्त तिवारी, जितेंद्र राय, बलराम पटेल, विक्रम लोधी, नवाब सिंह, सैनिक धनीराम पटेल की उल्लेखनीय भूमिका रही।