Ticker

6/recent/ticker-posts

शिवजी मनोवांछित फल देने वाले है- राधेश्याम खितौला रोड पर शिवपुराण का आयोजन

शिवजी मनोवांछित फल देने वाले है- राधेश्याम 
खितौला रोड पर शिवपुराण का आयोजन
सिहोरा

 भगवान शिव सभी भक्तों को मनोवांंछित फल देने वाले है उक्ताशय के विचार महंंत श्री राधेेश्याम व्यास जी ने रेल्वे स्टेशन मेन रोड खितौला में चल रहे नौ दिवसीय श्री शिव महापुराण में व्यक्त किए । संत जी कहा की पापों से मुक्ति दिलाने वाली मां गंगा को शिवजी ने वरदान दिया था की जो भी भक्त शिवरात्रि पर कांवड़ में जल भरकर लायेगा और उनको अर्पित करेगा उनकी मनोकामना पूरी हो जायेगी।आगे कहा की माता पार्वती ने जब अपना उबटन मैर उतारकर उसका पुतला बनाकर भगवान गणेश का आवाहन कर उनके जैसा पुत्र मांगा तो गणेश जी प्रगट हो और उनके पुत्र बन गये संत जी ने आगे कहा की अठारह प्रमुख पुराणों में शिव पुराण सभी पुराणों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण है।जिसमें  भगवान शिव के विविध रूपों,अवतारों, ज्योतिर्लिंगों, भक्तों और भक्ति का विशद वर्णन किया गया है इसमें शिव के कल्याणकारी स्वरूप का तात्त्विक विवेचन, रहस्य, महिमा और उपासना का विस्तृत वर्णन है। शिव पुराण में शिव को पंचदेवों में प्रधान अनादि सिद्ध परमेश्वर के रूप में स्वीकार किया गया है। शिव-महिमा, लीला-कथाओं के अतिरिक्त इसमें पूजा-पद्धति, अनेक ज्ञानप्रद आख्यान और शिक्षाप्रद कथाओं का सुन्दर संयोजन है।सभी पुराणों में शिव को त्याग, तपस्या, वात्सल्य तथा करुणा की मूर्ति बताया गया है। कहा गया है कि शिव सहज ही प्रसन्न हो जाने वाले हैं। कथा के पूर्व पुना राम पटेल,सतीश पटेल,सपना पटेल,राजेश श्रीपाल, सपना श्रीपाल, संतोष खम्परिया, ज्योति खम्परिया आदि ने व्यासपीठ का पूजन किया ।