बिजली बिल, नए कनेक्शन की राशि का गबन करने वालों के खिलाफ दर्ज हो अपराधिक प्रकरण

बिजली बिल, नए कनेक्शन की राशि का गबन करने वालों के खिलाफ दर्ज हो अपराधिक प्रकरण

विद्युत वितरण केंद्र गोसलपुर का मामला : 27 किसानों से 129140,  42 किसानों से 958333 रुपए विद्युत विभाग के सहकर्मी ने वसूले, नहीं किए जमा

भारतीय किसान यूनियन ने एसडीएम के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन




सिहोरा

मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण केंद्र गोसलपुर के अंतर्गत आने वाले आधा दर्जन से अधिक ग्रामों के कृषि उपभोक्ताओं के बिजली बिल और नए विद्युत कनेक्शन के नाम पर विद्युत विभाग के सहकर्मी ने वसूली लिए लेकिन जमा नहीं किए। इस मामले को लेकर 17 मार्च को सिहोरा संभागीय कार्यालय के कार्यपालन यंत्री को ज्ञापन सौंपा था, उन्होंने विद्युत सहकर्मी से वसूली करने का आश्वासन दिया था लेकिन कोई भी कार्रवाई नहीं। सोमवार को भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने एसडीएम के नाम तहसीलदार राकेश चौरसिया को ज्ञापन सौंपकर गबन करने के मामले में तत्काल कार्रवाई करने की मांग की। दोषी कर्मचारी और अधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई नहीं होने पर किसानों ने आंदोलन की चेतावनी प्रशासन को दी।

लगातार सामने आ रही पीड़ित किसान

भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष रमेश पटेल ने बताया कि मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण केंद्र गोसलपुर के अंतर्गत आने वाले बघेली,मगरकटा, घुघरा, मुरैठ, लखनपुर, घोराकोनी, मझगवां सहित अन्य ग्रामों के थ्री फेस नए कनेक्शन के नाम पर 17 किसानों से 129140 रुपए, 42 किसानों के बकाया बिजली बिल 95833 रुपए विद्युत विभाग के सहकर्मी ने जमा नहीं किए। इतनी बड़ी राशि का गबन गोसलपुर विद्युत वितरण केंद्र प्रभारी किस जगह शह पर हुआ है जिसको लेकर किसान बहुत चिंतित हैं। विद्युत वितरण केंद्र के अंतर्गत आने वाले किसानों की संख्या और बढ़ सकती है जिनकी राशि संबंधित सहकर्मी ने वसूल कर ली है।


आपराधिक कृत्य करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज

भारतीय किसान संघ के अनंतराम परोहा, भारतीय किसान यूनियन के मझौली ब्लाक अध्यक्ष अनिल पटेल, ओम प्रकाश पटेल, किसान रमेश नामदेव, इंद्र कुमार नामदेव, जुगल पटेल, प्रमोद चक्रवर्ती, गुड्डा राम चक्रवर्ती, संजय चक्रवर्ती, रोहित नामदेव, सुखलाल चक्रवर्ती ने मांग की है कि दोषी कर्मचारी एवं गोसलपुर विद्युत वितरण केंद्र प्रभारी के विरुद्ध तत्काल कार्रवाई कर आपराधिक मामला दर्ज किया जाए।
Previous Post Next Post