Ticker

6/recent/ticker-posts

कलेक्टर ने निरस्त किया अनुविभागीय राजस्व अधिकारी सिहोराका गोसलपुर तालाब की भूमि के मद परिवर्तन का आदेश

कलेक्टर ने निरस्त किया अनुविभागीय राजस्व अधिकारी सिहोरा
का गोसलपुर तालाब की भूमि के मद परिवर्तन का आदेश
सिहोरा

       कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने कलेक्टर न्यायालय में प्रस्तुत अपील के एक प्रकरण में फैसला देते हुये अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सिहोरा द्वारा उचित प्रक्रिया का पालन किये बिना पारित मद परिवर्तन के आदेश को जनहित में निरस्त कर गोसलपुर स्थित रामसागर तालाब खसरा नम्बर 487/1 रकबा 7.40 हेक्टेयर भूमि श्री शंकर जी मंदिर बाबा रामदास समाधि ट्रस्ट सरवराहकर श्रीमती नेतूबाई के साथ प्रबंधक के रूप से जिला कलेक्टर जबलपुर के नाम पर पुन: दर्ज करने के निर्देश तहसीलदार सिहोरा को निर्देश दिये हैं।

      प्रकरण के बारे में प्राप्त जानकारी के अनुसार गोसलपुर स्थित रामसागर तालाब की भूमि को अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सिहोरा द्वारा राघवेन्द्र पालीवाल के भूमि के कैफियत के कालम 12 में दर्ज तालाब का रकबा कम कराये जाने के आवेदन पर 16 नवम्बर 2021 को आदेश पारित कर गोसलपुर स्थित 487/1 रकबा 7.22 हेक्टेयर भूमि में से 2 हेक्टेयर भूमि पर वाजिब उल अर्ज से मुक्त किये जाने का आदेश पारित किया गया था। इस आदेश के विरूद्ध गोसलपुर जनसेवा समिति द्वारा अध्यक्ष हेमचंद्र असाटी निवासी गोसलपुर की ओर से कलेक्टर न्यायालय में अपील प्रस्तुत की गई। अपील से तथ्य प्रस्तुत किया गया कि निस्तार पत्रक में दर्ज रामसागर तालाब की भूमि के अवैध रूप से मद परिवर्तित कराकर प्रमोद देवी पालीवाल पिता राघवेन्द्र पालीवाल द्वारा भूमि का विक्रय करना शुरू कर दिया गया है। अपील में भूमि के विक्रय पर स्थगन प्रदान करने का आग्रह भी अपीलार्थी द्वारा किया गया था। अपीलार्थी द्वारा बताया गया कि ग्राम पंचायत गोसलपुर में इस तालाब के अतिरिक्त कोई अन्य तालाब नहीं है जहां ग्राम वासी निस्तार कर सकें। यह तालाब 50 वर्ष पूर्व में भूमि मिशल में वाजिब उल अर्ज में जल स्त्रोत के मद में दर्ज है। जिसमें प्रबंधक के रूप में जिला कलेक्टर जबलपुर का नाम भी दर्ज था।