Ticker

6/recent/ticker-posts

विधानसभा ब्रेकिंग:सदन में गूंजा किसानों के आत्महत्या का मुद्दा,मस्तूरी विधायक डॉ बांधी ने पूछा ​क्या किसानों के लिए मुआवजे का कोई नियम बनाएंगे l


रायपुर
। छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज प्रदेश में किसानों की आत्महत्या का मामला गूंजा। सत्ता पक्ष ने इसका जवाब देते हुए कहा कि साल 2019 से 2022 के बीच प्रदेश के कुल 570 किसानों ने आत्महत्या की है।
किसानों की आत्महत्या के कारणों और मुआवजा को लेकर सत्ता पक्ष को घेरते हुए विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। भाजपा विधायक कृष्णमूर्ति बांधी ने किसानों की आत्महत्या का मामला उठाया, जिस पर मंत्री ताम्रध्वज साहू ने जानकारी देते हुए कहा कि जनवरी 2019 से 12 फरवरी 22 तक कुल 570 किसानों ने आत्महत्या की है। इनमें से 2 लोगों ने कृषिगत कारणों से और बाकी सभी ने अन्य कारणों से खुदकुशी की है। भाजपा विधायक बांधी ने इस पर कहा कि मंत्री ने विभाग की ओर से किसानों के लिए मुआवजा का प्रावधान नहीं होने की बात कही है। क्या मुआवजे का कोई नियम बनाएंगे? यूपी के किसान को 50 लाख रुपये दिए गए हैं। इस पर ताम्रध्वज साहू ने कहा कि मुआवजे को लेकर अभी ऐसा नियम नहीं है। वहीं मंत्री ने स्पष्ट किया कि यूपी के किसान को मुआवजा नहीं दिया गया है। मुख्यमंत्री अपने विवेक से वह राशि देते हैं।