नवरात्रि पर्व पर सुकन्या समृद्धि योजना अंतर्गत 101 कन्याओं के खाते खुलवा कर देवी रूप कन्याओं को किया सशक्त

नवरात्रि पर्व पर सुकन्या समृद्धि योजना अंतर्गत 101 कन्याओं के खाते खुलवा कर देवी रूप कन्याओं को किया सशक्त
प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना अंतर्गत नवरात्रि पर्व के शुभ अवसर पर कन्याओं को आर्थिक रूप से सशक्त करने के लिए कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी के मार्गदर्शन में  आज जीसीएफ डीबी क्लब द्वारा विजन कार्यक्रम  में 101 कन्याओं के खाते खुलवा कर उन्हें पासबुक सौंपने का कार्यक्रम किया गया । योजना के अंतर्गत विजन जबलपुर के सदस्यों ने सभी कन्याओं के खाते में राशि डाली और उन्हें पासबुक सौंपी गई। इस अवसर पर मुख्य अतिथि  कलेक्टर  डॉ. इलैयाराजा  ने अपने कर कमलों द्वारा बेटियों को पासबुक वितरित की।  विजन जबलपुर ने आज 101 कन्याओं को योजना से लाभान्वित किया और अब तक उनके द्वारा 351 कन्याओं के खाता खोला जा चुका है।
      इस अवसर पर कलेक्टर इलैयाराजा ने कहा कि सुकन्या समृद्धि योजना सरकार द्वारा चलायी गयी एक छोटी बचत योजना है। जो की बालिकाओ के अच्छे भविष्य के लिए “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” पहल के तहत शुरू की गयी है। इसके द्वारा माता पिता या बच्ची का क़ानूनी अभिवावक बच्ची के नाम से बचत खाते की तरह एक सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोल सकते हैं और निवेश की गई राशि पर एक निश्चित ब्याज  अर्जित कर सकते हैं। इससे बालिकाओं आर्थिक सशक्तिकरण भी होगा।
       सुकन्या समृद्धि खाता लड़की के जन्म से 10 साल की उम्र तक किसी भी समय खोला जा सकता है। खाता खुलने की तारीख से 21 साल तक या लड़की के 18 साल की होने के बाद उसकी शादी तक चालू रहेगा। बच्ची के 18 वर्ष पूरे करने के बाद उसके उच्च शिक्षा खर्च का वहन करने के लिए शेष राशि के 50 प्रतिशत की आंशिक निकासी की व्यवस्था है।सुकन्या समृद्धि खाता में न्यूनतम 250 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये प्रति वर्ष, खाता खोलने से 15 वें वर्ष के अंत तक जमा करने होते हैं। यह राशि आप अपनी जरूरत के अनुसार चाहें तो वर्ष में एक बार में भी जमा कर सकते हैं या कई बार में भी जमा कर सकते हैं।
   उन्होंने नवरात्रि के अवसर पर कन्याओं के आर्थिक सशक्तिकरण में डीबी क्लब के सहयोग के लिये आभार भी व्यक्त किया।  कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।
Previous Post Next Post