जबलपुर पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त कार्यवाही’, 50 लाख रूपये की लागत से निर्मित मकान को जमींदोज

जबलपुर पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त कार्यवाही’, 50 लाख रूपये की लागत से निर्मित मकान को जमींदोज करते हुये लगभग 15 हजार वर्ग फुट शासकीय भूमि कीमती 4 करोड़ की कराई गयी कब्जा मुक्त
जबलपुर

निगरानी बदमाश रोहित सोनकर जो कि थाना बीजाडाण्डी अन्तर्गत हुयी बबलू पण्डा की हत्या का मुख्य आरोपी है, एंव रोहित सोनकर के 2 भाई पवन सोनकर एवं नीरज सोनकर के द्वारा जो कि अपराधी प्रवृति के हैं थाना बरेला अन्तर्गत निवास रोड पर स्थित ग्राम पुरवा पटपरा में शासकीय भूमि 900 वर्ग फुट पर 50 लाख रूपये की लागत से निर्मित मकान तथा लगभग 14 हजार वर्गफुट में निर्मित वाउण्ड्रीवाल, तार की फैंसिंग एवं गेट को जमींदोज करते हुये 4 करोड़ की शासकीय भूमि केा कराया गया कब्जा मुक्त

             मध्य प्रदेश  शासन द्वारा राशन की काला बाजारी, मिलावटखोरों, भू-माफियाओं/चिटफंड कंपनी के कारोबारियों एवं सूदखोरों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश प्रशासन व पुलिस विभाग को दिये गये हैं, दिये गए निर्देशों के तहत पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त टीम के द्वारा इस प्रकार के माफियाओं की लिस्ट एवं उनके द्वारा किये गये अवैध निर्माण एवं कब्जे की जानकारी तैयार की गई है तथा उनके विरूद्व कार्यवाही की योजना तैयार कर लगातार कार्यवाही की जा रही है।
 
               इसी क्रम में आज  कलेक्टर जबलपुर डॉ. इलैयाराजा टी. (भा.प्र.से.) एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के मार्गदर्शन में निगरानी बदमाश रोहित सोनकर जिसके विरूद्ध थाना बरेला में  एनडीपीएस एक्ट , अवैध वसूली मारपीट, बलवा, दहेज प्रताड़ना के प्रकरण दर्ज हैैं एंव रोहित सोनकर के 2 भाई पवन सोनकर एवं नीरज सोनकर के द्वारा जो कि अपराधी प्रवृति के हैं थाना बरेला अन्तर्गत निवास रोड पर स्थित ग्राम पुरवा पटपरा में मां श्रीमती सबिता बाई के नाम पर वर्ष 2006 में जारी 900 वर्ग फुट भूमि  पट्टा के स्थान पर तीनों भाईयों के द्वारा शासकीय भूमि 1800 वर्ग फुट में मकान का निर्माण तथा लगभग 14 हजार वर्गफुट में वाउण्ड्रीवाल निर्मित तथा तार की फैंसिंग कर गेट लगाकर कब्जा कर रखा था। शासकीय भूमि पर 50 लाख रूपये की लागत से अवैध निर्मित मकान के 900 वर्गफुट हिस्से को एवं 14 हजार वर्ग फुट में वाउण्ड्रीवाल तथा तार की फैंसिंग केा जमींदोज करते हुये लगभग 15 हजार वर्ग फुट भूमि जिसकी अनुमानित कीमत 4 करोड़ रूपये है केा कब्जा मुक्त कराया गया है।

            विवाद होने की आशंका को ध्यान मे रखते हुये कार्यवाही के दौरान  एस.डी.एम.  पी.के. सेनगुप्ता, उप पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्रीमती अपूर्वा किलेदार, नायब तहसीलदार श्रीमती रूपेश्वरी कुंजाम, थाना प्रभारी बरेला  जितेन्द्र यादव , थाना प्रभारी ग्वारीघाट श्रीमती भूमेश्वरी चौहान, थाना प्रभारी संजीवनीनगर सुश्री शोभना मिश्रा, चौकी प्रभारी गौर  टेकचंद शर्मा, आर.आई.  अंकित शुक्ला एवं थाना केण्ट, थाना गोराबजार का बल मौजूद था।
Previous Post Next Post