Ticker

6/recent/ticker-posts

थ्री फेस बिजली की अघोषित कटौती

थ्री फेस बिजली की अघोषित कटौती

आक्रोशित सैकड़ों किसानों ने घेरा मझगवां (सरौली) सब स्टेशन, सूखने की कगार पर अन्नदाता की मेहनत

मझगवां (सरौली)

थ्री फेस बिजली की अघोषित कटौती से आक्रोशित किसानों ने बुधवार को मझगवां (सरौली) सब स्टेशन का घेराव कर दिया। सैकड़ों की संख्या में पहुंचे किसानों ने बिजली कंपनी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसानों ने आरोप लगाया कि जेपीसी का पूरा पैसा लिया जा रहा है तो किसानों को पूरी बिजली क्यों नहीं दी जा रही। थ्री फेस बिजली की अघोषित कटौती से मूंग उड़द की फसल खेतों में सूखने की कगार पर पहुंच गई। 


किसान सुरेश पटेल, जितेंद्र पटेल, प्रदोष पटेल, रिंकू पटेल, जगन्नाथ पटेल, आशीष पटेल, उमेश पटेल, देवीदीन चक्रवर्ती, दुर्गेश पटेल, राजकुमार पटेल, दुर्गा पटेल, रघुनाथ पटेल जितेंद्र कुमार कुर्मी, भारत पटेल,राहुल पटेल, रजनीकांत सिंह ने बताया कि मझगवां (सरौली) सब स्टेशन से जुड़े मझगवां, अगरिया, सिंघुली, भटुली, भंडरा, सैलवारा, खिरहनी, कन्हाई देवरी सहित अन्य ग्रामों में थ्री फेस बिजली की सप्लाई होती है, लेकिन लगातार हो रही अघोषित बिजली कटौती और 10 घंटे में से सिर्फ 4 घंटे बिजली मिलने से खून पसीने से लगाए अन्नदाता की उड़द की फसल सूखने की कगार पर पहुंच गई है।

डेढ़ घंटे तक चला प्रदर्शन, मौके पर पहुंची पुलिस और बिजली कंपनी के अधिकारी

आक्रोशित किसानों का प्रदर्शन करीब डेढ़ घंटे तक सब स्टेशन पर पर चला प्रदर्शन की खबर लगते ही मझगवां थाने का पुलिस बल मौके पर पहुंचा। बिजली कंपनी के कार्यपालन यंत्री मोहन से मौके पर पहुंचे और किसानों को बताया कि उनकी समस्याओं का जल्द से जल्द निराकरण किया जाएगा तब कहीं आक्रोशित किसान शांत हुए।