दो किलोमीटर दूर से आएंगे नौनिहाल परीक्षा देने

दो किलोमीटर दूर से आएंगे नौनिहाल परीक्षा देने
शासकीय प्राथमिक शाला माल्हा के बच्चे 2 किमी. व प्राथमिक शाला रामपुर के हाईवे से पैदल चलकर गांधीग्राम आएंगे परीक्षा देने
चिलचिलाती धूप में 2 किलोमीटर दूर परीक्षा देने जाएंगे
सिहोरा

 शुक्रवार को 5वीं, 8वीं की राज्य स्तरीय वार्षिक परीक्षाएं  प्रारंभ होने जा रही है।शासन के शिक्षा विभाग द्वारा शासकीय  प्राथमिक शालाओं को निकटतम शासकीय माध्यमिक शाला में परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। शासन की शिक्षा विभाग की उक्त व्यवस्था से शासकीय प्राथमिक शालाओं के छात्र-छात्राएं व अभिभावको के लिए परेशानी का सबब है,  वे परीक्षा के समय अपने नौनिहालों को परीक्षा दिलाने के लिए परेशान होंगे। उपरोक्त संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार विकासखंड सिहोरा के संकुल केन्द्र  गांधीग्राम के अंतर्गत आने वाली शासकीय प्राथमिक शाला माल्हा में दर्ज लगभग 10 छात्रों को चिलचिलाती धूप में लगभग दो किलोमीटर दूर पैदल चलकर वार्षिक परीक्षा देने   बनाये गये परीक्षा केंद्र शासकीय माध्यमिक शाला गाँधीग्राम आना होगा।


   वही शासकीय प्राथमिक शाला रामपुर जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 हाईवे के किनारे हैं यहाँ के 6 बच्चों को भी हाईवे सड़क किनारे से लगभग डेढ़ किलोमीटर पैदल चलकर वार्षिक परीक्षा देने परीक्षा केंद्र शासकीय माध्यमिक शाला गांधीग्राम जाना होगा।  उक्त दोनों शालाओं में छात्र छात्राओं को जब परीक्षा प्रवेश पत्रों का वितरण किया गया तो अभिभावक स्कूल पहुंचे। अभिभावकों का कहना था कि इतने छोटे-छोटे बच्चों का परीक्षा केंद्र इतनी दूर बनाया जाना बिल्कुल गलत बात है। शाला प्रबंधन समिति की वर्तमान अध्यक्ष साधना केवट व पूर्व अध्यक्ष जयराम केवट सहित अभिभावकों का कहना है कि वर्तमान समय में तेज गर्मी व तेज धूप भी है।हम मजदूरी करने जाएं कि बच्चों को परीक्षा दिलवाने। प्रधान अध्यापकों का कहना है कि अभिभावकों से बता दिया गया है कि वह अपने बच्चों को उचित साधन से परीक्षा केंद्र शासकीय माध्यमिक शाला गांधीग्राम लेकर पहुंचे।

 हाईवे पर कई एक्सीडेंट हो चुके हैं

गौरतलब है कि रामपुर और गांधीग्राम के बीच जिस हाईवे के रास्ते से बच्चे हैं गाँधीग्राम के लिये जाएंगे यहां पर फोरलेन धमकी चौराहा पड़ता है। जोकि एक्सीडेंट जॉन के रूप में जाना जाता है। यहां लगभग 3 दर्जन से अधिक दुर्घटनाएं हो चुकी हैं जिसमें अनेक के बच्चे हाईवे पार करते समय एक्सीडेंट होकर काल कवलित हो चुके हैं। जिला प्रशासन से अभिभावकों का आग्रह है कि छोटे बच्चों को भीषण गर्मी के वर्तमान समय में बच्चों के आने जाने के लिए या तो वाहन उपलब्ध कराया जावे,या फिर स्कूल में ही परीक्षा केंद्र रखा जावे।
Previous Post Next Post