"त्रिशला नंदन वीर की जय बोलो महावीर की"

"त्रिशला नंदन वीर की जय बोलो महावीर की"
भगवान महावीर स्वामी की 2620वीं जयंती पर निकली विमान यात्रा, जियो और जीने दो का दिया सन्देश

सिहोरा 

 अहिंसा परमो धर्म और जियो और जीने दो का सन्देश देने वाले जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी की 2620वीं जयंती गुरुवार को जन्म कल्याण महोत्सव के रूप में मनाई गई। श्री 1008 श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर पंचायती जैन मंदिर से सकल जैन समाज सिहोरा के धर्मावलम्बियों ने भव्य विमान शोभायात्रा निकाली। 
 मंदिर प्रांगण से  सुबह 9 बजे प्रारम्भ हुई विमान शोभायात्रा कालभैरव चौक, झंडा बाजार, आजाद चौक, गौरी तिराहा पहूंची। विमान पर विराजमान भगवान महावीर स्वामी की अष्टधातु की प्रतिमा भक्त हाथों से खींच रहे थे। भजन करती महिलाए त्रिशला नंदन वीर की जय बोलो महावीर की... जियो और जीने दो.., गौ हत्या बंद करो का उद्धोष करते चल रही थीं। 
आरती उतारी, श्रीफल किया अर्पित

 विमान शोभायात्रा में भगवान महावीर स्वामी का विशाल कटआउट और आचार्य विद्या सागर महाराज का चित्र शोभायात्रा को भव्य बना रहा था। शोभायात्रा में जैन धर्मावलम्बियों ने जगह-जगह भगवान महावीर स्वामी की फूलों से सजी थाली से आरती उतारी और श्रीफल अर्पित किया। विमान शोभायात्रा बस स्टैंड, मैना कुआ होते हूए श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर पंचायती जैन मंदिर में समाप्त हुई। 
पूजन, अनुष्ठान, शांतिधारा

श्री पार्श्वनाथ पंचायती दिगम्बर जैन मंदिर में भगवान महावीर स्वामी का पूजन किया गया। साथ की अनुष्ठान के बाद शांतिधारा का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में जैन धर्मावलम्बी शामिल थे।
Previous Post Next Post