Ticker

6/recent/ticker-posts

रात में नरवाई में आग लगा रहे किसान

रात में नरवाई में आग लगा रहे किसान
प्रशासन की रोक का नहीं दिख रहा कहीं भी असर : नरवाई की आग से खाक हो रही खेतों में खड़ी गेंहू की फसल 

सिहोरा 

बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रण में करने के लिए प्रशासन द्वारा नरवाई जलाने पर रोक लगाई है। जिला प्रशासन  इस मामले को लेकर सतर्क है। प्रशासन के आदेश को हवा में उड़ाते हुए किसान रात के समय नरवाई जला रहे हैं। इससे पर्यावरण प्रदूषण को नियंत्रण में करना का उद्देश्य सफल होता नहीं दिख रहा है। बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए सरकार व प्रशासन ने जहां  नरवाई जलाने पर रोक लगाने और  किसानों पर कार्रवाई के निर्देश दिए। इसके लिए जिला प्रशासन को जिले के अधिकारी टीम बनाकर क्षेत्र में  नरवाई जलाने को लेकर सर्तक हैं। क्षेत्र के किसान आज भी नरवाई जलाकर पर्यावरण को दूषित कर रहे है, परन्तु आदेश की धज्जियां किसान उड़ा रहे हैं।जिला प्रशासन द्वारा की जाने वाली कार्रवाई से बचने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के किसानों द्वारा रात के समय बेधड़क होकर नरवाई जलाई जा रही है।

 हाइवे किनारे के खेतों में व नहर किनारे के खेतों में रात में आग 

 गांधीग्राम से जुझारी की ओर एन एच 30 हाइवे के किनारे के खेतों में वे गांधीग्राम में बंजारी माता मंदिर से पीछे व नहर किनारे से कुछ दूरी पर  खेतों में रात्रि के 9 बजे के लगभग खेतो में आग की लपटें लगातार दिख रही थीं। इसके अलावा खेतों में पिछले एक सप्ताह से क्षेत्र के गांवों में रात्रि में खेतों में नरवाई जलती देखी गई है। लेकिन कार्रवाई न होने से किसानों के हौसले बुलंद हो चुके है। इसके चलते किसान नरवाई जलाने के लिए रात का समय चुन रहे हैं। किसानों को दिन के समय नरवाई जलाने से कार्रवाई का खतरा बना हुआ है। रात के समय नरवाई जलाकर कार्रवाई से बच रहे हैं। रात के समय नरवाई जलाने से दिनों दिन प्रदूषण का खतरा बढ़ता जा रहा है।