Ticker

6/recent/ticker-posts

नवमी पर हुआ जवारा विसर्जनआस्था और श्रद्धा के साथ हुआ जवारो का जगह-जगह स्वागत

नवमी पर हुआ जवारा विसर्जन
आस्था और श्रद्धा के साथ हुआ जवारो का जगह-जगह स्वागत
सिहोरा 

चैत्र नवरात्र की नवमी तिथि पर गोसलपुर नगर सहित ग्रामीण अंचल कछपुरा, हिरदेनगर, धरमपुरा, धोराकोनी, केवलारी सहित कई स्थानों पर धूमधाम से जवारा विसर्जन किये गये साथ ही दिनभर भंडारा कन्या भोजन हवन पूजन सहित
विविध कार्यक्रम चलते रहे।कार्यक्रमों में माता के भक्तों का उत्साह देखते ही बन रहा था।

नवमी तिथि पर नगर की आराध्य देवी

ग्राम दिवाले बडी खेरमाता मंदिर सहित अन्य देवी मंदिरों में माता का दर्शन करने हेतु भक्तों की भीड़ सुबह से देर रात तक लगी रही। चैत्र नवरात्रि के नवमी तिथि में देवी स्थलों पर माता की विशेष महाआरती हुई। मंदिर समिति के महेन्द्र सिंह ठाकुर ने बताया की नवरात्र में मां आदिशक्ति की आराधना मंदिरों में अखंड जोत जलाने के अलावा मंदिर व घरों में जवारा बोने की भी परंपरा सदियों से चली आ रही है। जवारा की परंपरा का निर्वाहन निरंतर किया जा रहा है। इसी क्रम में खेर माता मंदिर गोसलपुर से जवारा की शोभायात्रा निकालकर रामसागर तालाब के कुटीघाट में विधि विधान से पूजन अर्चन कर जवारा विसर्जन किए गए। इस मौके पर मंदिरों समितियो व  माताओं द्वारा अपने अपने घरों में सुबह से ही कन्या पूजन भोजन
का आयोजन चलता रहा।

इनका रहा विशेष सहयोग

सरपंच सुखदेव पटेल, महेंद्र सिंह ठाकुर, बृजबिहारी तिवारी, महेश दाहिया, अमित सोनी, दीपक प्रीतवानी, सतीश तिवारी, जयकुमार राय, किशन बरमन, बेडीलाल साहू एस.एन.झारिया, गनपत सिंह चौहान, नारायण साहू, हेमचंद असाटी, दालचंद साहू राखी जायसवाल बिषनू यादव  यादव सहित अनेक लोग उपस्थित थे।