Ticker

6/recent/ticker-posts

सिहोरा आकर्षण का केंद्र बनी "मां दुर्गा की मुस्कराती प्रतिमा"

आकर्षण का केंद्र बनी "मां दुर्गा की मुस्कराती प्रतिमा"
नवरात्र : पीपल छाया दुर्गा उत्सव समिति कटरा मोहल्ला में चैत्र नवरात्र में पहली बार हुई स्थापना, प्रतिदिन हो रही माता की महाआरती 

सिहोरा 

आदिशक्ति मां जगत जननी की साधना-उपासना का पर्व चैत्र नवरात्र पर्व प्रारंभ हो गया है। वैसे तो चैत्र नवरात्र में मां दुर्गा की प्रतिमा विराजित करने की परंपरा नहीं रहती, लेकिन कुछ स्थानों पर चैत्र नवरात्र में भी मां की नयनाभिराम प्रतिमाएं विराजित करने की परंपरा शुरू हो गई है। सिहोरा नगर के कटरा मोहल्ला में पीपल छाया दुर्गोत्सव समिति के सदस्यों ने चैत्र नवरात्र पर "मां दुर्गा की मुस्कराती" प्रतिमा विराजित की, जो जन आकर्षण का केंद्र बनी है। 

मां दुर्गा बस बोलने ही वाली हैं

समिति के विजय साहू (गुड्डू),  पंकज साहू, निक्की कुशवाहा, नीतेश, बबलू, जितेंद्र ठाकुर, अंकित साहू, बबलू साहू के मुताबिक मूर्तिकार ने इस प्रतिमा को मुस्कुराते हुए चेहरे के साथ बनाया है, जो अब से पहले दूसरी मूर्तियों में देखने को नहीं मिला। मातारानी की प्रतिमा को देखने में ऐसा लगता है कि मां दुर्गा बस बोलने ही वाली हैं। ऐसी छवि को देखने के बाद लोग अपलक प्रतिमा को निहारते रहते हैं।

नहीं हटती प्रतिमा से नजर

 मां दुर्गा की इस प्रतिमा के दर्शन करने वाले भक्तों की होड़ मची है। दर्शन के लिए आने वाले भक्तों का कहना है कि प्रतिमा को देखने के बाद उस पर से नजरें नहीं हटती। प्रतिमा से बरसती करुणा और मुस्कुराहट लोगों को अपनी ओर खींच रही है। प्रतिमा से करुणा बरसती हुई नजर आती है।

नवरूपों में विराजी मां
श्री शिव मंदिर बाबाताल में झंकार युवा समिति ने चैत्र नवरात्र पर मां दुर्गा के नौ रूपों में माता महाकाली की नयनाभिराम प्रतिमा स्थापित की है, मां की यह प्रतिमा भी क्षेत्र में आकर्षण का केंद्र बनी  है।

माता देवालय खड़रा 
बहोरीबंद रोड स्थित माता देवालय खड़रा  में चैत्र नवरात्र की द्वितीय तिथि पर माता के पूजन अर्चन और दर्शन के लिए भक्तों का तांता लगा रहा। चैत्र नवरात्र पर दूर-दूर से माता के भक्त यहां पहुंचकर अपनी मनोकामना पूर्ण करते हैं।