बिलासपुर नगर निगम का भारी भरकम बजट निराशाजनक , निगम से जुड़े नए ग्रामीण क्षेत्रों के लिए नहीं कोई प्रावधान - बीपी सिंह

बिलासपुर नगर निगम का भारी भरकम बजट  निराशाजनक , निगम से जुड़े नए ग्रामीण क्षेत्रों के लिए नहीं कोई प्रावधान - बीपी सिंह 

बिलासपुर / विधायक प्रतिनिधि बी पी सिंह ने निगम के बजट को निराशाजनक करार दिया है और कहा है कि अरबों का बजट नगर निगम द्वारा पेश किया गया लेकिन नगर निगम में हाल ही में शामिल किए गए ग्रामीण इलाको लेकर नगर निगम इस बजट में  कोई प्रावधान नहीं किया गया जो इन वार्डो  की जनता के साथ छलावा है उन्होंने निगम पर इन वार्डों की अनदेखी का आरोप लगाया है ।
बिलासपुर नगर निगम बजट सत्र गुरुवार पेश किया गया विपक्षी पार्षदों ने जमकर हंगामा मचाया और आवास में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की  भाजपा पार्षदों का कहना था कि 2 साल में 60 हजार आवेदन आए, लेकिन आवास एक को भी नहीं मिला। सत्ता पक्ष ने जवाब में इसे राजनीति करना बता दिया। दरअसल, बजट से पहले सामान्य सभा के दौरान सवाल-जवाब पर चर्चा की जा रही थी।
करीब दो घंटे देरी से शुरू हुई निगम की कार्रवाई में पार्षद  ने घटिया लाइट लगाए जाने का सवाल उठाया। इसके साथ ही सामान्य सभा में बिजली, पानी और सड़क के साथ ही संपत्ति कर वसूली के ठेके को लेकर चर्चा की गई। भाजपा पार्षद ने सरकंडा के नूतन चौक से लेकर इमलीभाठा की जर्जर सड़क का मुद्दा उठाया। कहा, दो साल से नहीं बन सकी है। इस पर महापौर ने बारिश से पहले सड़क बनाने की बात कही। कहा कि गुणवत्ता से समझौता नहीं होगा।

आवास आवंटन को लेकर भाजपा पार्षदों का हंगामा।

निगम में सम्पत्ति कर ठेके से वसूली के मुद्दे को उठाया। बताया गया कि ठेका कंपनी निगम अफसरों के जितनी कर वसूली नहीं कर पाई है। प्रश्नोत्तर काल के दौरान सत्ता पक्ष के ही पार्षदों ने अमृत मिशन का मामला सदन में उठाया। महापौर ने मिशन से जुड़ी कुछ योजनाएं राज्य सरकार के अधीन है। इस पर अध्यक्ष ने सदन में मौजूद शहर विधायक शैलेष पांडेय को जानकारी देने के लिए कहा, तो उन्होंने सदन की कार्यवाही पूरी होने के बाद  विस्तार से जानकारी रखी । विधायक पांडे ने अपनी निधि से 2 करोड़ देने की घोषणा भी की।
वही नेता प्रतिपक्ष राजेश सिंह ने स्मार्ट सिटी का मुद्दा उठाया जिसमे स्वयं निगम  आयुक्त ने विस्तृत रूप से स्मार्ट सिटी की कार्ययोजना और बजट पर चर्चा की ।
Previous Post Next Post