Ticker

6/recent/ticker-posts

हैंडपंप उगल रहे हवा, बूंद बूंद पानी के लिए परेशान लोग

हैंडपंप उगल रहे हवा, बूंद बूंद पानी के लिए परेशान लोग

जलसंकट : ऊपरी बसाहट के क्षेत्रों में भयावह स्थिति, ढाबों और दूसरी जगह से पीने का पानी ढोकर लाने मजबूर लोग

सिहोरा

आग बरसाती गर्मी के बीच जल संकट गहराने लगा है। हालात यह है कि हैंड पंप हवा उगल रहे हैं और घरों में लगे समर्सिबल ने जवाब दे दिया है। लोग बूंद बूंद पानी के लिए परेशान है। सिहोरा नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सभी 18 वार्डों में जल संकट गहरा गया है। पीने के लिए पानी नहीं मिलने से लोगों में भारी आक्रोश है। हालात यह है कि दो से तीन दिन के बीच में सिर्फ एक बार नाला रहे हैं वह भी सिर्फ कुछ समय के लिए। सिहोरा और उपनगर खितौला को जलापूर्ति करने वाली हिरण नदी पहले ही सूख गई है। बरगी दम तक नहर से अभी तक पानी नहीं छोड़ा गया है जिसके कारण हालात और खराब हो गए हैं। सिहोरा के वार्ड नंबर 1 हड़हा मोहल्ला की महिलाओं ने बताया कि वह ढाबे से पानी ढोकर ला रहे हैं। जल संकट को लेकर प्रशासन भी पहले से सचेत नहीं था इसी का परिणाम है कि लोगों को पीने के पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है। पिछले वर्ष जल संकट को लेकर प्रशासन ने पहले से कोई भी तैयारी नहीं की थी इसी का परिणाम है कि लोग अप्रैल माह में ही पीने के पानी को लेकर हैरान और परेशान हैं जबकि अभी मई और जून का महीना बाकी है जब पीने के पानी को लेकर और हाहाकार मचेगा।

ऊपरी बसाहट में स्थिति सबसे ज्यादा खराब

सिहोरा नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले वार्ड नंबर 16, 17 और 18 में जल संकट की बहुत ही भयावह स्थिति है। यहां हैंडपंप पूरी तरह बंद पड़े हैं और लोग ढाबों और दूसरी जगह से पीने का पानी ढोकर लाने को मजबूर है। नगर पालिका के टैंकर भी पर्याप्त जलापूर्ति नहीं कर पा रहे हैं। चाहे बात लखराम मोहल्ला की हो या टावर कॉलोनी की। सकरी मोहल्ला, सैयद बाबा की टोरिया, वार्ड नंबर 1 मनसकरा में पानी के लिए लंबी लंबी लाइन लग रही हैं।