सात दिन के अंदर किसानों और उपभोक्ताओं की समस्या का निदान नहीं तो होगा उग्र आंदोलन

सात दिन के अंदर किसानों और उपभोक्ताओं की समस्या का निदान नहीं तो होगा उग्र आंदोलन
किसानों की बिजली को लेकर पूर्व विधायक के नेतृत्व में इंद्राना में मुख्य अभियंता को सौपा  ज्ञापन 

मझौली

 पूर्व विधायक पाटन नीलेश अवस्थी के आह्वान पर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी मझौली के अध्यक्ष दिलीप सिंह राजपूत के नेतृत्व में अघोषित बिजली कटौती को लेकर शनिवार को कलेक्टर के कार्यपालन यंत्री मोहन सिंग को सौंपा। ज्ञापन में मांग की गई कि 24 घंटे घरेलू बिजली एवं 10 घंटे कृषि पंपों को निरंतर बिजली प्रदान की जावे और अघोषित कटौती बंद हो तथा खराब ट्रांसफार्मरों को तत्काल प्रभाव से बदला जाए। 

   पूर्व विधायक नीलेश अवस्थी, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष दिलीप सिंह राजपूत ने कहा कि यदि 7 दिवस के अंदर किसानों एवं घरेलू उपभोक्ताओं की बिजली की समस्याओं का निदान विद्युत विभाग के द्वारा नहीं किया जाता तो कांग्रेस पार्टी उग्र आंदोलन करने के लिए तैयार है। जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की होगी। कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनकी समस्याओं को दूर कराने के लिए हमेशा तैयार है। ज्ञापन सौंपते समय  किसान कांग्रेस के उपाध्यक्ष  मनोज तिवारी, बृजेश दुबे  (बबलू पंडा), निलेश राजपूत,  सुरेंद्र ठाकुर, यशवंत राजपूत, राजेश मिश्रा, नारायण लोधी, संतोष चक्रवर्ती, दया झारिया, आदित्य वाथरे, आशीष पटेल, जमुना प्रसाद, उदय सिंह, दिनेश ठाकुर, रवि सिंह, विनीत सिंह, नितिन बर्मन सहित बड़ी संख्या में मझौली ब्लाक कांग्रेस के पदाधिकारी और किसान शामिल थे।
Previous Post Next Post