माफिया विरोधी अभियान के तहत जिला प्रशासन की बड़ी कार्यवाही.

माफिया विरोधी अभियान के तहत जिला प्रशासन की बड़ी कार्यवाही.
अवैध कब्जे से मुक्त कराई 14 करोड़ रुपये की शासकीय भूमि.

जबलपुर - जबलपुर जिले में माफिया के विरुद्ध कार्यवाही का सिलसिला लगातार जारी है । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा के अनुरूप माफिया विरोधी अभियान के तहत आज जिला प्रशासन द्वारा बड़ी कार्यवाही कर अनुमानित करीब 13.80 करोड़ रुपये बाजार मूल्य की 23 हजार वर्गफुट शासकीय भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त कराया गया है ।  

     कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी के निर्देशानुसार एसडीएम आधारताल नमः शिवाय अरजरिया के नेतृत्व में की गई इस कार्यवाही में आधारताल तहसील के अंतर्गत मनमोहन नगर गायत्री मंदिर के पास उद्योग विभाग की 10 हजार वर्गफुट भूमि को माफिया गोहलपुर निवासी आसिफ के अवैध कब्जे से मुक्त कराया गया है । आसिफ द्वारा इस शासकीय भूमि पर बाउंड्रीवाल एवं सड़क निर्माण कर कब्जा कर लिया गया था। जिसे नगर निगम और पुलिस के सहयोग से हटा दिया गया । बाउंड्रीवाल की आड़ में यहाँ अनैतिक गतिविधियां भी संचालित की जाती थी ।

      एसडीएम आधारताल नमःशिवाय अरजरिया के अनुसार अतिक्रमण से मुक्त कराई गई इस शासकीय भूमि का बाजार मूल्य लगभग 6 करोड़ रुपये है तथा यहाँ बनाई गई कंक्रीट सड़क व बाउंड्रीवाल की कीमत लगभग 12 लाख रुपये आंकी गई । उन्होंने बताया कि उद्योग विभाग को यहां इंडस्ट्रियल हब बनाने के लिये करीब 26-27 एकड़ जमीन आबंटित की गई है ।
    एस डी एम आधारताल के अनुसार बदमाश आसिफ के कब्जे से मुक्त कराई गई भूमि के अलावा यहाँ राजेश खटीक के अवैध कब्जे से 3 हजार वर्गफुट भूमि को मुक्त कराया गया है । राजेश खटीक द्वारा उद्योग विभाग की इस भूमि पर अतिक्रमण कर गौशाला का निर्माण कर लिया गया था । एसडीएम आधारताल ने अवैध कब्जे से मुक्त कराई गई इस भूमि की अनुमानित कीमत करीब 1.80 करोड़ रुपये बताई है ।
      एस डी एम आधारताल नमः शिवाय अरजरिया के अनुसार इन दो कार्यवाहियों के अतिरिक्त उद्योग विभाग को आबंटित भूमि में से 10 हजार वर्गफुट भूमि को पचौरी पेट्रोल पंप के संचालक के कब्जे से भी मुक्त कराया गया है । पचौरी पेट्रोल पंप के संचालक को किसी अन्य व्यक्ति द्वारा दस्तावेजों में हेरफेर तथा धोखाधड़ी कर उद्योग विभाग की यह भूमि बेच दी गई थी । इस भूमि की कीमत भी लगभग 6 करोड़ रुपये बताई गई है । आज की गई इन कार्यवाहियों में तहसीलदार आधारताल राजेश सिंह एवं नायब तहसीलदार संदीप जायसवाल भी मौजूद थे ।
Previous Post Next Post