पीएचसी गोसलपुर में हुई 110 गर्भवती माताओं की जांचजांच में 40 हाई रिस्क गर्भवती महिलाये मिली उचित खानपान की दी सलाह

पीएचसी गोसलपुर में हुई 110 गर्भवती माताओं की जांच
जांच में 40 हाई रिस्क गर्भवती महिलाये मिली उचित खानपान की दी सलाह

गोसलपुर

सिहोरा तहसीलअंतगर्त संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोसलपुर मे शुक्रवार को केन्द्र सरकार के द्वारा चलाए जा रहे अभियान प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृव योजना के तहत पीएचसी अंतर्गत आने वाले सिहोरा एवं मझौली के सभी गांवों से शिविर में पहुंची 110 महिलाओं की जांच जिला मुख्यालय से आयी जांच टीम मे शामिल डॉ.भावना मिश्रा स्त्री रोग विशेषज्ञ
ईश्ववर सिंह ठाकुर स्त्री रोग विशेषज्ञ ने महिलाओं की जांच
की जांच के दौरान गर्भवती महिलाओं की शुगर बीपी यूरिन पीलिया हिमोग्लोबिन व अन्य सभी प्रकारो की जांच कर आयरन कैलिशयम की दवाइयां वितरित की गयी

शिविर मे गर्भवती महिलाओं के शरीर में खून की कमी के कारण हाई रिस्क प्रेगनेंसी का खतरा बढ़ा है बड़ी संख्या में महिलाओं में यह कमी देखी जा रही है इसे लेकर शिशु एवं मातृ मृत्यु दर में कमी लाने के लिए सरकार द्वारा तमाम योजनाएं चला रही हैं इसके बावजूद भी 40 गर्भवती महिलाओं को हाई रिस्क प्रेगेनसी का खतरा बताया
गया है जहां एक ओर शिशु एवं मातृ मृत्यु दर को कम करने के लिए सरकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं संस्थागत प्रसव को बढ़ावा दिया जा रहा है लेकिन इस राह मे हाई रिस्क प्रेगनेंसी रोड़ा बन रही है शिविर मे पहुंची सभी महिलाओं को संस्थागत प्रसव कराने की सलाह दी गई साथ ही गर्भावस्था के दौरान उचित खानपान पौष्टिक आहार लेने के साथ स्वच्छता से रहने की समझाइश दी गई शिविर को सफल बनाने में विकास खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ दीपक गायकवाड सुपरवाइजर इंद्रकुमार उपाध्याय टीकाकरण प्रभारी असगर खान एएनएम ज्योति राजभर मोनिका रानीसेन सद्दाम हुसैन माया कोल अमन मिश्रा प्रेमकुमार रोशनी तिवारी रेखा भंडारभर आशा सैमुअल के साथ आशा कार्यकर्ता एवं आशा सहयोगी का सराहनीय योगदान रहा
Previous Post Next Post