सिहोरा जिला के लिए विधायक मरावी आगे आई,मुख्यमंत्री से मांगा समय

सिहोरा जिला के लिए विधायक मरावी आगे आई,मुख्यमंत्री से मांगा समय
विधायक द्वय विश्नोई और पांडे के समर्थन से फिर जागी आशाएं

17 मई को रैली निकालेंगे सिहोरावासी

सिहोरा

सिहोरा को जिला बनाने की मांग को लेकर पिछले सात माह से चल रहे धरना प्रदर्शन के बाद सिहोरा विधायक आगे आई है और उन्होंने जिला मुद्दे पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने का समय मांगा है।मंगलवार को सिहोरा विधायक ने लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति के सदस्यों को अपने कार्यालय बुला उक्त जानकारी दी।विदित हो कि विगत रविवार को ही पाटन विधायक अजय विश्नोई और बहोरीबंद विधायक प्रणय पांडे ने इस मुद्दे पर अपना समर्थन देते हुए मुख्यमंत्री के पास साथ चलने का आश्वासन समिति को दिया है।

सिहोरावासियों में जागी आश

विदित को कि इससे पूर्व 2001 तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा और 2004 में तत्कालीन भाजपा सरकार द्वारा सिहोरा जिला घोषित हुआ था परंतु आज 21 वर्षो बाद भी जिला नही बन सका है।तब से ऐसे कयास लगाए जाते रहे कि जिस दिन सिहोरा, पाटन और बहोरीबंद के विधायक एकमत होंगे सिहोरा जिला बन जाएगा।वर्तमान में तीनों विधायकों के एक मत होने से सिहोरावासियों में आश जगी है कि सिहोरा की 21 वर्षो की लंबी राजनैतिक उपेक्षा का अंत होगा।

17 मई की रैली जनभावना का प्रगटीकरण

लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति ने घोषणा की कि वे सिहोरा, मझौली,ढीमरखेड़ा और बहोरीबंद के लोगों के साथ एक विशाल रैली 17 मई को निकालने जा रहे है।इस रैली के माध्यम से मुख्यमंत्री तक ये संदेश पहुँचाया जाएगा कि सिहोरा जिला जनभावना का विषय है।समिति ने सभी से 17 मई को शाम 4 बजे बस स्टैंड सिहोरा पहुँचने का आह्वान किया है।
         विधायक नंदनी मरावी से मिलते समय समिति के नागेंद्र कुररिया,सियोल जैन,नंदकुमार परौहा,सूरज पाठक,सुनील जैन,राजेन्द्र गर्ग,अजय शुक्ला,रामनरेश यादव,रामजी शुक्ला,एडवोकेट संजय सेंगर,राजभान मिश्रा,नरेंद्र गर्ग,सुशील जैन,दीपक गुप्ता,अमित चौरसिया सहित अनेक सिहोरावासी मौजूद रहे।
Previous Post Next Post