Ticker

6/recent/ticker-posts

मझगवां थाना क्षेत्र के रमखिरिया गांव में दहेज प्रताडऩा का एक सनसनीखेज मामला

मझगवां थाना क्षेत्र के रमखिरिया गांव में दहेज प्रताडऩा का एक सनसनीखेज मामला 

सिहोरा
जहां बहू को दहेज के लिए प्रताडि़त कर पति और ससुरालियों ने मिट्टी का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया। पीडि़ता की चीखों को जब मोहल्ले वालों ने सुना तो दौड़कर बचाने का प्रयास किया। जिसके बाद आनन-फानन में मेडिकल में भर्ती किया गया। जहां इलाज के दौरान आज रविवार को पीडि़ता की दर्दनाक मौत हो गयी। वहीं, बहू की मौत हो जाने के बाद भी पति ने मायके खबर तक नहीं दी। पुलिस ने मर्ग कायम कर, पूरा मामला जांच में लिया है।

जानकारी अनुसार मुकेश चौधरी निवासी निपनिया ने बताया कि उसकी बहन लक्ष्मी अहिरवार की शादी 2009 में राजू चौधरी के साथ हिन्दू रीति रिवाज सहित हुई थी। बहन के तीन बच्चे है। लेकिन शादी के कुछ माह बाद ही उसकी बहन को दहेज के लिए लगातार प्रताडि़त किया जाने लगा था। दरमियानी रात उसकी बहन के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर पति राजू अहिरवार, ससुर प्यारे लाल चौधरी ने आग के हवाले कर दिया और दूर खड़े होकर तमाशा देखते रहे। आसपास के लोगों ने बहन को अस्पताल में भर्ती किया, जहां उसकी मौत हो गयी।

कम सुनाई देता था, इस बात से थे नाराज

मृतिका के भाई मुकेश ने बताया कि उसकी बहन लक्ष्मी को कम सुनाई देता था। इसी बात को लेकर पति, सास और ससुर उसे ताने मारते थे और दहेज की डिमांड कर जमकर मारपीट करते थे। उन्होंने अनेक बार जीजा से मिन्नते की थीं कि वह दहेज की रकम भी अदा कर देंगे, लेकिन जीजा मानने तैयार नहीं था और लगातार उसकी बहन को शारीरिक और मानसिक रुप से प्रताडि़त करता था। मृतिका के भाई मुकेश के द्वारा लगाए गए आरोपों की पुलिस बारीकी से जांच कर रही है। अब पूरी जांच के बाद ही स्थिति स्पस्ट हो सकेगी।