Ticker

6/recent/ticker-posts

कलेक्टर ने की नगरीय निकायों की जल प्रदाय योजना की समीक्षा समय सीमा के भीतर कार्य पूरा करने के दिये निर्देश

कलेक्टर ने की नगरीय निकायों की जल प्रदाय योजना की समीक्षा

समय सीमा के भीतर कार्य पूरा करने के दिये निर्देश 
जिले के छह नगरीय निकायों में घर-घर पहुंचेगा चौबीस घंटे नर्मदा जल 

तीन निकायों में जलापूर्ति का ट्रायल रन शुरू 
जून अंत तक शेष तीन निकायों में पेयजल आपूर्ति प्रस्तावित 

जबलपुर

 वर्ष 2048 तक की जरूरतों को ध्यान में रखते हुये जिले के छह नगरीय निकायों में चौबीस घंटे नर्मदा जल की आपूर्ति के लिये क्रियान्वित की जा रही जल प्रदाय योजना की कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी. ने कल आयोजित बैठक में समीक्षा की। कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में संपन्न हुई इस बैठक में उन्होंने मध्यप्रदेश अरबन डेवलपमेंट कंपनी के अधिकारियों को तय समय सीमा के भीतर योजना का काम पूरा करने के निर्देश दिये हैं।  
 कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा ने बैठक में जल प्रदाय योजना के तहत अभी तक हुये कार्यों का विस्तार से ब्यौरा लिया। बैठक में बताया गया कि नगरीय निकायों की जल प्रदाय योजना का लगभग 90 फीसदी कार्य पूरा हो चुका है। जिले के तीन नगरीय निकायों भेड़ाघाट, पाटन एवं कटंगी में जल आपूर्ति का ट्रायल रन भी प्रारंभ कर दिया गया है। शेष तीन नगरीय निकायों पनागर, सिहोरा एवं मझौली में जून माह के अंत तक जलापूर्ति प्रारंभ कर दी जायेगी। इन तीनों नगरीय निकायों में घर-घर नल कनेक्शन का लगभग 70 फीसदी कार्य पूरा भी किया जा चुका है। 
कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने बैठक में कहा कि योजना के क्रियान्वयन में यदि कहीं बाधा आ रही है तो उसे अंतर विभागीय समन्वय से दूर किया जाये। कलेक्टर ने जल प्रदाय योजना के कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की हिदायत देते हुये इंटेकवेल, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट एवं उच्च स्तरीय पानी की टंकियों के निर्माण की प्रगति की समीक्षा भी की। 
 बैठक में बताया गया कि राज्य शासन के नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा मध्यप्रदेश अरबन डेवलपमेंट कंपनी के माध्यम से क्रियान्वित की जा रही इस जल प्रदाय योजना में लम्हेटाघाट में इंटेकवेल बनाकर जबलपुर जिले के छह नगरीय निकायों भेड़ाघाट, पनागर, पाटन, कटंगी, सिहोरा एवं मझौली तथा दमोह जिले के तेंदुखेड़ा में नर्मदा जल की आपूर्ति की जायेगी। करीब 257 करोड़ रूपये की लागत की इस कार्ययोजना के तहत लम्हेटाघाट में 35 मीटर ऊंचाई एवं 10 मीटर ब्यास का इंटेकवेल बनाया जा चुका है तथा भेड़ाघाट में 31 एमएलडी का जल शुद्धीकरण संयंत्र स्थापित किया जा चुका है। 
 बैठक में दी गई जानकारी के अनुसार जल प्रदाय योजना के तहत सभी नगरीय निकायों में 12 उच्च स्तरीय पेयजल टंकियों का निर्माण किया जा रहा है। योजना के तहत जबलपुर जिले के छह निगरीय निकायों एवं दमोह जिले के तेंदुखेड़ा में जल प्रदाय हेतु 159.01 किलोमीटर एवं जल वितरण हेतु 328.5 किलोमीटर लम्बी पाइप लाइन बिछाई जा रही है। योजना के तहत सभी नगरीय निकायों में ग्रीष्म काल सहित वर्ष भर चौबीस घंटे घरों में नल कनेक्शन प्रदान कर नर्मदा जल की आपूर्ति की जायेगी। 
 नगरीय निकायों में चौबीस घंटे नर्मदा जल आपूर्ति की एशियन विकास बैंक द्वारा वित्त पोषित इस योजना के क्रियान्वय से नगरीय निकाय पर कोई वित्तीय भार नहीं पडेगा। योजना के पूर्ण होने के बाद दस वर्षों तक रख-रखाव का कार्य एवं संचालन निर्माण एंजेंसी द्वारा ही किया जायेगा।