गर्मी के तीखे तेवर से लोग घरों में दुबकेकूलर, पंखे फेंक रहे गरम हवासड़कों पर पसरा सन्नाटा

गर्मी के तीखे तेवर से लोग घरों में दुबके
कूलर, पंखे फेंक रहे गरम हवा
सड़कों पर पसरा सन्नाटा


सिहोरा

रविवार को गर्मी के तल्ख तेवर बने रहने से लोग बेहाल नजर आए। सूर्योदय के साथ ही गर्मी ने अपने तीखे तेवर हो जाते हैं, लेकिन दोपहर के समय गर्मी का प्रकोप चरम पर दिखाई दिया। सूर्योदय के साथ ही गर्मी ने अधिकतम तापमान तन को चुभने वाली सूरज की तीखी किरणों ने जहां आमजन को परेशान किया, वहीं तन झुलसाने वाली उमस ने लोगों को बेहाल कर दिया। गर्मी के तीखे तेवर से बचने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों से जरूरी काम से आने वाले लोग वृक्षों या छायादार स्थानों के आश्रय में बैठे दिखाई दिए। गर्मी की भीषणता के कारण पशु भी बेहाल नजर आए। शाम को उमस ने लोगों को चैन नहीं लेने दिया।

कूलर, पंखे गर्म हवा दे रहे

तेज गर्मी व लगभग 45 डिग्री तापमान के कारण घर के छत दीवार भट्टी के समान गर्म हो जाते हैं जिससे पंखे कूलर गर्म हवा फेंक रहे हैं। गर्मी का असर इतना अधिक था कि घरों में कूलर व पंखे भी नाकारा साबित हुए।ग्रामीण क्षेत्रों में सूर्य की आग उगलती किरणों ने कहर बरपाया। दिन भर  गर्मी  ने लोगों को घर में दुबकने पर मजबूर कर दिया। पशु पक्षी भी गर्मी से बचने के लिए पेड़ों की छाया की शरण लेते नजर आए। लोग गर्मी से बचने के लिए विभिन्न तरह के जतन कर रहे हैं।
गाँधीग्राम क्षेत्र में रविवार की सुबह सूर्योदय के साथ ही गर्मी का प्रकोप चरम पर रहा।वहीं सुबह 8 बजे के बाद से ही सूर्योदय के तीखे तेवर नजर आने लगे। दोपहर के समय तेज धूप के चलते गर्मी में ईजाफा हो गया।गर्मी की तीव्रता के कारण ग्रामीणों को घरों से जरूरी कार्य से बाहर निकलते समय अपना सिर, चेहरा आदि कपड़े से ढक कर निकलने को मजबूर होना पड़ा। चारों तरफ गर्मी की तीव्रता के कारण सन्नाटा नजर आ रही था। गर्मी के चलते  दुपहिया वाहन चालकों को परेशानी उठानी पड़ी।
Previous Post Next Post